close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: मीसा को 'सूर्पणखा' कहने पर तेजस्वी भड़के, जेडीयू ने फिर दिखाया आईना

 पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने जेडीयू के प्रवक्ता नीरज कुमार द्वारा इशारों ही इशारों में मीसा भारती को 'सूर्पणखा' कहे जाने के बाद सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा. 

बिहार: मीसा को 'सूर्पणखा' कहने पर तेजस्वी भड़के, जेडीयू ने फिर दिखाया आईना
तेजस्वी ने ट्वीट कर जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है.(फाइल फोटो)

पटना: राज्यसभा सांसद मीसा भारती को जेडीयू द्वारा इशारों ही इशारों में 'सूर्पणखा' कहे जाने पर उनके दोनों भाई तेजप्रताप यादव और तेजस्वी यादव भड़क गए हैं. इधर, पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने जेडीयू के प्रवक्ता नीरज कुमार द्वारा इशारों ही इशारों में मीसा भारती को 'सूर्पणखा' कहे जाने के बाद सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा. 

तेजस्वी ने ट्वीट कर कहा, 'भगवान, नीतीश कुमार को सद्बुद्धि दे. बेचारे प्रवक्ता तो नियोजित मजबूर कर्मचारी हैं. शब्द और बोल तो नीतीश जी लिखकर देते है. मुख्यमंत्री आवास स्थित 'नीतीश इंस्टीट्यूट ऑफ एब्यूज, मिसयूज, एक्सक्यूज स्टडीज' मं इन्हें बैठाकर सिखाते हैं कि कब, किसे, कितनी मात्रा में और किस लहजे में गाली देनी है."

उल्लेखनीय है कि रविवार को जेडीयू के प्रवक्ता नीरज कुमार ने एक ट्वीट कर तेजप्रताप और तेजस्वी के आपस में मिलने पर तंज कसते हुए लिखा, "भरत मिलाप में भरत पूरे परिवार के साथ जंगल में राम को वापस लाने गए थे. परन्तु, आज की स्थिति उलट है. आज न केवल छोटा भाई सत्ता पर काबिज है, बल्कि बड़े भाई को वन-वन घूमने को बाध्य किया गया. 'सूर्पणखा' को एक क्षेत्र के मालिक बनाने पर भी कोई राजी नही."

इस ट्वीट के बाद आरजेडी और जेडीयू के नेता आमने-सामने आ गए हैं. पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और आरजेडी नेता तेजप्रताप ने रविवार को जेडीयू को गुंडों की पार्टी कहते हुए कहा था कि जेडीयू प्रवक्ताओं की औकात ही क्या है. उन्होंने कहा कि वे ऐसे लोगों पर मानहानि का मुकदमा करवाएंगे. 

इधर, जेडीयू ने सोमवार को एक बार फिर आरजेडी पर निशाना साधा है. जेडीयू के प्रवक्ता नीरज ने ट्वीट कर लिखा, "हर रात मनती है उनकी, दीवाली की तरह, मैंने एक दीप जलाया, तो वे बुरा मान गए. आप तो देश प्रधानमंत्री से लेकर राज्य के मुख्यमंत्री तक को नहीं छोड़ते, मैंने तो सिर्फ आईना दिखाया, और आपको तकलीफ हो गई?" 

इसके पूर्व एक ट्वीट में उन्होंने तेजप्रताप को याद दिलवाते हुए कहा, "कुछ लोगो को आईना जरूर देखना चाहिए. 2017 के नवरात्र में जब अपनी मां को 'दुर्गा' बताकर मुझे 'महिषासुर' कह वध करने की बात कही थी, वे आज ज्यादा परेशान हो रहे हैं. उस समय वह बयान मर्यादित लगा था. आज आईना दिखाया तो धमकी देते घूम रहे हैं. धैर्य राखिए." 

बहरहाल, आरजेडी और जेडीयू में चुनाव के पूर्व ही बयानबाजी तेज हो गई है. अब देखना है कि जेडीयू के इस बयान पर आरजेडी क्या पलटवार करता है.  (इनपुट: IANS से भी)