close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

असम के कामरूप मां कामाख्या मंदिर दर्शन करने पहुंची अमेठी सांसद स्मृति ईरानी

 पूर्व केंद्रीय मंत्री और अमेठी से नव निर्वाचित बीजेपी के सांसद स्मृति ईरानी देश की सबसे बड़ी शक्ति पीठ और तंत्र मंत्र का स्थान के रूप में विख्यात असम के गुवाहटी नीलाचल पर्वत पर मां कामाख्या मंदिर में मां का दर्शन करने पहुंची. कामाख्या मंदिर देश की सबसे बड़ी शक्ति पीठ और तंत्र और मंत्र का प्राण केंद्र के रूप में जाना जाता हैं. 

असम के कामरूप मां कामाख्या मंदिर दर्शन करने पहुंची अमेठी सांसद स्मृति ईरानी

नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय मंत्री और अमेठी से नव निर्वाचित बीजेपी के सांसद स्मृति ईरानी देश की सबसे बड़ी शक्ति पीठ और तंत्र मंत्र का स्थान के रूप में विख्यात असम के गुवाहटी नीलाचल पर्वत पर मां कामाख्या मंदिर में मां का दर्शन करने पहुंची. कामाख्या मंदिर देश की सबसे बड़ी शक्ति पीठ और तंत्र और मंत्र का प्राण केंद्र के रूप में जाना जाता हैं.

कहा जाता है कि मां कामाख्या अपने भक्तों की हमेशा रक्षा करती हैं और मंगल कामनाएं पूरी करती हैं. मां कामख्या मंदिर में ली गई मन्नत मां जरूर पूरा करती हैं और शायद इसी मंगल कामनाओं के साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री और अमेठी से नव निर्वाचित बीजेपी की सांसद स्मृति ईरानी मंगलवार दोपहर 3 बजे गुवाहटी के नीलाचल पहाड़ में स्थित मां कामाख्या का दर्शन करने पहुंची.

स्मृति ईरानी बड़े ही सादगी से और आम भक्त की तरह ही मां कामाख्या मंदिर में आज अचानक दर्शन करने जब पहुंची तब प्रसाशन को भनक नहीं थी और न ही मीडिया को, पर बाद में स्मृति ईरानी के मां कामाख्या मंदिर पहुंचने की खबर मिलते ही मीडियाकर्मी और पुलिस प्रसाशन मंदिर में पहुंच गए. इस दौरान स्मृति ईरानी ने मीडिया से बातचीत नहीं की पर हाल ही में अपने अमेठी के सहयोगी के हत्या से दुखी जरूर नज़र आ रही थी. कहा जाता हैं कि कामाख्या मंदिर में भक्तों का हर दुःख दर्द हर लिया जाता है और माँ अपने भक्तों खुद की बुलाने पर ही भक्त उनके दर्शन करने पहुंच पाते हैं.