Pune: 'चुन चुन के मारेंगे', पुणे में 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारों पर BJP विधायक का बड़ा बयान
topStorieshindi

Pune: 'चुन चुन के मारेंगे', पुणे में 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारों पर BJP विधायक का बड़ा बयान

Pakistan zindabad slogans: पीएफआई ने हाल ही में संगठन पर देशव्यापी छापेमारी और उसके कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की निंदा करने के लिए जिला कलेक्टर कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन आयोजित किया था. 

Pune: 'चुन चुन के मारेंगे', पुणे में 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारों पर BJP विधायक का बड़ा बयान

Pakistan zindabad slogans in Pune: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक नितेश राणे ने चेतावनी दी कि पुणे में कथित तौर पर पाकिस्तान समर्थक नारे लगाने वालों को याद रखना चाहिए कि उन्हें बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) पर प्रतिबंध लगाने की भी मांग की. सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आया है, जिसमें दिखाया गया है कि शुक्रवार को पुणे में पीएफआई द्वारा आयोजित एक विरोध प्रदर्शन के दौरान कथित तौर पर 'पाकिस्तान जिंदाबाद' का नारा लगाया गया था, जिस पर भाजपा और महाराष्ट्र सरकार ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि नारे लगाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

पीएफआई के समर्थन में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे

पुणे में पीएफआई के समर्थन में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वालों के लिए राणे ने ट्वीट कर कहा कि.. चुन चुन के मारेंगे.. इतना याद रखना !!! #BanPfi. बाद में, राणे ने अपना एक और वीडियो शेयर किया जिसमें उन्होंने महाराष्ट्र सरकार से दोषियों पर कार्रवाई करने का आग्रह किया है. एक अन्य भाजपा विधायक राम सतपुते ने नारे लगाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की और कहा कि पुणे पुलिस को उन्हें गिरफ्तार करना चाहिए.

एकनाथ शिंदे ने दी तीखी प्रतिक्रिया

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि इस तरह के नारे राज्य में बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे, जबकि डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि नारे लगाने वालों को बख्शा नहीं जाएगा. वीडियो में दिखाया गया है कि शुक्रवार को हुए विरोध प्रदर्शन के दौरान पीएफआई के कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिए जाने के दौरान एक-दो बार नारा लगाया गया था. 

जानें पुणे पुलिस ने क्या कहा

पीएफआई ने हाल ही में संगठन पर देशव्यापी छापेमारी और उसके कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की निंदा करने के लिए जिला कलेक्टर कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन आयोजित किया था. प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने करीब 40 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया. पुणे पुलिस ने कहा कि वे मामले की जांच कर रहे हैं. पुलिस उपायुक्त सागर पाटिल ने कहा कि हमने पहले ही अवैध रूप से इकट्ठा होने के लिए पीएफआई सदस्यों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और हम नारेबाजी के मामले को देख रहे हैं.

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

(एजेंसी इनपुट के साथ)

Trending news