close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गुरुग्राम सीट से टिकट की घोषणा से पहले BJP विधायक उमेश अग्रवाल ने दिखाए बागी तेवर

गुरुग्राम से विधायक उमेश अग्रवाल खुलकर  केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह के पक्ष में आ गए हैं. उन्होंने पार्टी हाइकमान को राव की अनदेखी नहीं करने की चेतावनी दी है.

गुरुग्राम सीट से टिकट की घोषणा से पहले BJP विधायक उमेश अग्रवाल ने दिखाए बागी तेवर
गुरुग्राम विधायक अग्रवाल ने कहा कि राव की अनदेखी पार्टी को भारी पड़ेगी.

गुरुग्राम: बीजेपी ने 21 अक्टूबर को होने वाले हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Elections 2019) के लिए सोमवार को 87 उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी. पार्टी ने जो सूची जारी की है, उसमें 7 मौजूदा विधायकों के टिकट काटे गए हैं. दो कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल और राव नरबीर सिंह का टिकट काट दिया गया है. 

अभी 12 सीटों के उम्मीदवारों की घोषणा होना बाकी है. ये सीटें नारायणगढ़ (अंबाला), पानीपत (शहरी), गन्‍नौर (सोनीपत), खरखौदा (सोनीपत), फतेहाबाद, आदमपुर (हिसार), तोशाम (भिवानी), महम, कोसली, रेवाड़ी, गुरुग्राम और पलवल हैं. इधर, गुरुग्राम सीट से बीजेपी विधायक उमेश अग्रवाल (Umesh Agrawal) ने बागी तेवर दिखाए हैं. 

गुरुग्राम से विधायक उमेश अग्रवाल खुलकर  केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह के पक्ष में आ गए हैं. उन्होंने पार्टी हाइकमान को राव की अनदेखी नहीं करने की चेतावनी दी है. उन्होंने कहा कि राव की अनदेखी पार्टी को भारी पड़ेगी. साथ ही कहा दक्षिण हरियाणा में पार्टी को नुकसान हो सकता है. उन्होंने कई मीडिया हाउस को भी टैग किया. 

अपने ट्वीट में अग्रवाल ने लिखा: सबका साथ – सबका विकास – सबका विश्वास! इसी नारे के साथ होना चाहिए टिकटों का वितरण. योग्यता एवं जनभावनाओं की ना हो अनदेखी.

 

 

LIVE टीवी:

गौरतलब है कि राव इंद्रजीत अपनी बेटी आरती राव को टिकट दिलाने पर अड़े हैं लेकिन बीजेपी पहले ही साफ कर चुकी है कि पार्टी नेताओं के सगे-संबंधियों एवं रिश्तेदारों को टिकट नहीं देगी. गुरुग्राम सीट पर पेंच फंसा हुआ है. यही वजह है कि अभी इस सीट पर उम्मीदवार की घोषणा नहीं की गई है. हरियाणा विधानसभा की 90 सीटों पर 21 अक्टूबर को चुनाव होगा, जिसका परिणाम 24 अक्टूबर को घोषित किया जाएगा.