दिल्ली: पकड़ा गया नाबालिग से दरिंदगी करने वाला आरोपी, बच्ची की हालत नाजुक

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बच्ची की सर्जरी की गई है, डॉक्टर्स पूरी कोशिश कर रहे हैं उसे बचाने की. इम मामले को लेकर सीएम ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से भी बातचीत की. दिल्ली सरकार ने बच्ची के परिवार को 10 लाख रुपये के मुआवजा देने का ऐलान किया है. 

दिल्ली: पकड़ा गया नाबालिग से दरिंदगी करने वाला आरोपी, बच्ची की हालत नाजुक

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली के पश्चिमी विहार इलाके में 12 वर्षीय मासूम बच्ची से दरिंदगी करने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उधर, बच्ची अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रही है. बच्ची की हालत नाजुक बनी हुई है.

इससे पहले गुरुवार शाम को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एम्स में भर्ती दुष्कर्म पीड़ित 12 साल की बच्ची और उसके परिजनों से मुलाकात की और डॉक्टरों से उसके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली. बच्ची के परिजनों को दिल्ली सरकार की तरफ से 10 लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी. दिल्ली के पश्चिमी विहार इलाके की रहने वाली बच्ची से मंगलवार शाम को दुष्कर्म का मामला सामने आया था.

गुरुवार शाम मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, "मैंने थोड़ी देर पहले पुलिस कमिश्नर से बात की है. उन्होंने भी बताया कि पुलिस दोषियों को पकड़ने की पूरी कोशिश कर रही है और पुलिस की जांच जारी है. उम्मीद करते हैं कि दोषी भी जल्द से जल्द पकड़े जाएंगे. सरकार दोषियों को सख्त से सख्त सजा दिलवाएगी. इसके लिए कोर्ट में अच्छे से अच्छे वकील को खड़ा करेगी, ताकि उनको सख्त सजा मिले."

ये भी पढ़ें- नाबालिग से रेप मामला: दिल्ली महिला आयोग ने DCP को भेजा नोटिस, 2 दिन में मांगा जवाब

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, "बच्ची के साथ बहुत ही हैवानियत के साथ दुष्कर्म किया गया है. उसकी हालत बहुत ज्यादा गंभीर है. डॉक्टर बच्ची की जान बचाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं."

केजरीवाल ने कहा, "एक 12 साल की बच्ची के साथ हैवानियत भरी वारदात की जानकारी ने आत्मा को अंदर तक झकझोर दिया है. ऐसे दरिंदे अपराधियों का खुला घूमना बर्दाश्त के बाहर है."

बच्ची के साथ बहुत ही हैवानियत के साथ दुष्कर्म किया गया है. इसकी वजह से उसकी हालत बहुत ज्यादा गंभीर है. बच्ची को गंभीर चोटें आई हैं. बच्ची बेहोशी की हालत में है. एम्स में बच्ची का उपचार कर रहे डॉक्टर्स के मुताबिक मंगलवार को जब वह बच्ची अस्पताल आई थी, तब उसकी बहुत ज्यादा बुरी हालत थी. उसकी सर्जरी की गई है.

डॉक्टर बच्ची की जान बचाने की कोशिश कर रहे हैं. हालांकि अभी उसकी हालत नाजुक है. डॉक्टर ने बताया है कि अभी 24 से 48 घंटे तक और इंतजार करना पड़ेगा तभी पता लगेगा कि वह खतरे से बाहर आती है या नहीं.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, बच्ची के परिवार को सरकार की तरह से हम 10 लाख रुपये की आर्थिक मदद दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि बच्ची और उसके घर वालों को जो दर्द मिला है, उसके सामने कोई भी मदद बहुत छोटी है. लेकिन हम सरकार की तरफ से परिवार की मदद के लिए यह सहायता राशि दे रहे हैं."