Sourav Joshi Vlogs: जानें Sourav Joshi का साइकिल से Fortuner तक का सफर, हरियाणा के इस छोटे से कस्बे से शुरू किया था कारवां
topStories0hindi1470946

Sourav Joshi Vlogs: जानें Sourav Joshi का साइकिल से Fortuner तक का सफर, हरियाणा के इस छोटे से कस्बे से शुरू किया था कारवां

Sourav Joshi ने अपना यूट्यूब (YouTube) का सफर हरियाणा के छोटे से कस्बे हांसी से शुरू किया था. वहीं आज सौरभ महज 23 साल की उम्र में अपने परिवार को सपनों को अपने दम पर पूरा कर रहे हैं.

 

Sourav Joshi Vlogs: जानें Sourav Joshi का साइकिल से Fortuner तक का सफर, हरियाणा के इस छोटे से कस्बे से शुरू किया था कारवां

Sourav Joshi Vlogs: हरियाणा के हिसार से अपने कारवां की शुरुआत करने वाले Sourav Joshi आज एक यूथ आइकन (Youth Icon) बन चुके हैं. महज 23 साल की उम्र में आज सौरभ जोशी एक सेलिब्रिटी की लाइफ जीते हैं. सौरभ ने अपने छोटे भाई पीयूष जोशी Piyush Joshi के साथ मिलकर 2020 में लॉकडाउन में बोरियत दूर करने के लिए वीडियो बनाकर यूट्यूब (YouTube) पर अपलोड करना शुरू कर दिया था और आज सौरभ जोशी उसी के जरीये आज दिन के 1.5 से 2 लाख रुपये की बीच कमाते हैं. आज हम आपको इनके बारे में कुछ रोचक बातें बताने जा रहे हैं. 

ये भी पढ़ें: हरियाणा में सेना भर्ती के लिए नया शेड्यूल जारी, इन अभ्यर्थियों को करना पड़ेगा एडमिट कार्ड दोबारा डाउनलोड

18 मिलियन सब्‍सक्राइर्ब्‍स

बता दें कि कोरोना काल के समय में जब सब लोग घरों में कैद हो गए थे तो इस लड़के ने अपनी बोरियत दूर करने के लिए यू-ट्यूब (You Tube) पर  एक व्लॉगिंग चैनल (saurav joshi vlogs) बनाया. इसमें सौरभ जोशी ने अपनी दिनचर्या को लोगों के साथ शेयर करना शुरू कर दिया. इसमें इनके छोटे भाई पीयूष जोशी (Piyush Joshi) ने भी अपनी मासूमियत का तड़का डालकर इस चैनल के ग्रो करने में अपनी भूमिका निभाई.

इसके बाद लोगों ने इनके व्लॉग्स को पसंद करना शुरू कर दिया और धीरे-धीरे ये देश के नंबर वन व्लॉगर बन गए. आज की तारीख में सौरभ जोशी के 18.6 मिलियन सब्‍सक्राइर्ब्‍स हैं. एक साधारण परिवार का ये नौजवान आज अपने परिवार की हर जरूरत को लगभग पूरा कर चुका है और अब ये उनके रुपहले सपने को पूरा करने में लगा है. 

300-400 रुपये से लाखों तक का सफर
सौरभ जोशी का परिवार वैसे तो उत्तराखंड का रहने वाला है, लेकिन इनके पिता लगभग 20 साल पहले अपनी पत्नी और बच्चों के साथ हरियाणा के हिसार में आ बसे थे. सौरभ ने अपनी शुरुआती पड़ाई हिसार के हांसी में ही की थी. इनके पिता एक साधारण से से पेंटर थे. उनकी आर्थिक स्थिति बहुत अच्‍छी नहीं थी. लोगों के घरों में रंग रोगन करने के बाद दिन भर में महज 3-4 सौ रुपये मिलते थे. परिवार की कुछ जरूरतें पूरी होतीं, कुछ अगले महीने के लिए टाल दी जातीं. यह आगे भी चलता रहता अगर कोरोना के दौरान सौरभ ने यूट्यूब पर अपने वीडियो अपलोड करने न शुरू किए होते. सौरभ जोशी ने लगभग 2 मिलियन तक का सफर हरियाणा में ही तय किया है. इसके बाद ये वापस अपने होमटाउन हलद्वानी उत्‍तराखंड लौट गए.

सौरभ जोशी ने यू-ट्यूब के माध्यम से आज कई गाड़ियां खरीद चुके हैं, जिनकी कीमत लगभग 1 करोड़ के आसपास होगी. सौरभ ग्वालियर से बैचलर इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (BFA) कोर्स कर रहे हैं. वह खूबसूरत स्‍केच भी बनाते हैं. इसके अलावा उनका एक और यूट्यूब चैनल है 'सौरभ जोशी आर्ट्स'. सौरभ की कामयाबी से प्रेरणा लेकर ढेरों युवाओं ने अपने यूट्यूब चैनल शुरू क‍िए, बहुतों को कामयाबी भी मिली. वहीं सौरभ जोशी लाखों युवाओं के लिए एक यूथ आइकॉन बन गए हैं.

Trending news