मनी लॉन्ड्रिंग केस में Anil Deshmukh पर शिकंजा, ED ने अगले सप्ताह तक पेश होने को कहा

महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) को पूछताछ के लिए अगले सप्ताह ED के सामने पेश होने को कहा गया है. इससे पहले उन्होंने ईडी के सामने पेश होने के लिए नई तारीख मांगी थी.  

मनी लॉन्ड्रिंग केस में Anil Deshmukh पर शिकंजा, ED ने अगले सप्ताह तक पेश होने को कहा
फाइल फोटो.

मुंबई: प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने करोड़ों रुपए की रिश्वत लेने एवं जबरन वसूली करने वाले रैकेट से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में शनिवार को पूछताछ करने के लिए महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) को सम्मन जारी किया. लेकिन अनिल देशमुख ने जांच एजेंसी के सामने पेश होने के लिए कोई और तारीख दिए जाने की अपील की है. इसके बाद महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख को पूछताछ के लिए अगले सप्ताह प्रवर्तन निदेशालय के सामने पेश होने को कहा गया है.

क्या कहा देशमुख के वकील ने

अधिकारियों ने बताया कि एनसीपी नेता देशमुख को यहां बलार्ड एस्टेट इलाके में स्थित ईडी ऑफिस में मामले के जांच अधिकारी के सामने पेश होने को कहा गया था. उन्होंने बताया कि देशमुख के वकीलों की टीम ईडी ऑफिस पहुंची और उसने पेशी के लिए कोई और तारीख दिए जाने की अपील की, उन्होंने देशमुख का लिखा एक पत्र भी सौंपा. वकील जयवंत पाटिल ने ईडी ऑफिस के बाहर कहा, ‘देशमुख आज पेश नहीं होंगे. हमें इस मामले से संबंधित दस्तावेज नहीं दिए गए हैं. हमने ईडी को एक पत्र दिया है, जिसमें ये दस्तावेज और उस मामले की डिटेल दिए जाने की मांग की गई है, जिसमें उनसे पूछताछ की जानी है. हम उसी के अनुसार अपना जवाब देंगे.’

दो सहयोगी गिरफ्तार

इसस पहले केंद्रीय एजेंसी ने देशमुख के निजी सचिव संजीव पलांडे और निजी सहायक कुंदन शिंदे को शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया था. इससे पहले, ईडी ने मुंबई और नागपुर में देशमुख, पलांडे और शिंदे के ठिकानों पर छापे मारे थे. छापेमारी के बाद पलांडे और शिंदे को ईडी ऑफिस लाया गया और बाद में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. मुंबई की एक एमपीएमएलए कोर्ट ने इन दोनों को एक जुलाई तक के लिए ईडी की हिरासत में भेज दिया. सीबीआई ने बॉम्बे हाई कोर्ट के आदेश पर एक नियमित मामला दर्ज करने के बाद प्रारंभिक जांच शुरू की थी, जिसके बाद देशमुख एवं अन्य के खिलाफ ईडी ने मामला दर्ज किया.

यह भी पढ़ें: इंटरनेट फार्मेसी के जरिए चल रहा ड्रग तस्करी का काला कारोबार, तरीका जान रह जाएंगे हैरान!

क्या है मामला

मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने देशमुख के खिलाफ रिश्वत के आरोप लगाए थे और अदालत ने जांच एजेंसी को इन आरोपों की जांच करने का निर्देश दिया था. देशमुख ने इन आरोपों के बाद महाराष्ट्र के गृह मंत्री के पद से अप्रैल में इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने इन आरोपों को खारिज किया है.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.