close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गोवा के प्रधान पादरी ने पर्रिकर के निधन पर जताया शोक, कहा- उनका योगदान सराहनीय

चार बार गोवा के मुख्यमंत्री और पूर्व रक्षा मंत्री रहे मनोहर पर्रिकर फरवरी 2018 से ही अग्नाशय के कैंसर से पीड़ित थे. 

गोवा के प्रधान पादरी ने पर्रिकर के निधन पर जताया शोक, कहा- उनका योगदान सराहनीय
मनोहर पर्रिकर के निधन पर राष्ट्रीय शोक. (फाइल फोटो)

पणजी : गोवा चर्च ने मनोहर पर्रिकर के निधन पर शोक व्यक्त किया है और दावा किया है कि राज्य के कल्याण के लिए दूरगामी निर्णय लेते समय मुख्यमंत्री ने कई बार चर्च की राय ली. पर्रिकर (63) का रविवार शाम निधन हो गया. वह एक साल से अधिक समय से अग्नाशय कैंसर से पीड़ित थे.

गोवा और दमन के प्रधान पादरी फिलिप नेरी फेर्राओ ने रविवार को एक शोक संदेश में कहा, 'इस राज्य में चर्च के पदाधिकारियों के लिए उनके (पर्रिकर) मन में जो सम्मान था, हम उसके लिए उनके आभारी हैं.'

उन्होंने कहा पर्रिकर राज्य के कल्याण के लिए दूरगामी निर्णय करते समय कई बार चर्च की राय लेते थे. फेर्राओ ने कहा कि गोवा के कैथोलिक शिक्षण संस्थानों में पर्रिकर का योगदान सराहनीय था. उन्होंने कहा कि पर्रिकर का निधन गोवा के लोगों के लिए एक बड़ी क्षति है.

चार बार गोवा के मुख्यमंत्री और पूर्व रक्षा मंत्री रहे मनोहर पर्रिकर फरवरी 2018 से ही अग्नाशय के कैंसर से पीड़ित थे. आधिकारिक तौर पर बताया गया था कि वह अग्नाशय संबंधी बीमारी से पीड़ित हैं. पर्रिकर का स्वास्थ्य दो दिन पहले बहुत बिगड़ गया था. सूत्रों ने बताया कि पूर्व रक्षा मंत्री पर्रिकर शनिवार देर रात से ही जीवनरक्षक प्रणाली पर थे. मुख्यमंत्री का निधन रविवार शाम 6:40 बजे पर हुआ. उनकी पत्नी का पहले ही निधन हो चुका है.