Zee Rozgar Samachar

अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगी रोक 31 दिसंबर तक बढ़ी, DGCA ने लिया फैसला

देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी की वजह से 23 मार्च, 2020 को कॉमर्शियल इंटरनेशनल फ्लाइट्स (Commercial International Passenger Flights) पर पाबंदी लगाई गई थी. हालांकि 25 मई से घरेलू उड़ानें शुरू कर दी गई थी. 

अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगी रोक 31 दिसंबर तक बढ़ी, DGCA ने लिया फैसला
फाइल फोटो.

नई दिल्ली : कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के संकट और देश में संक्रमण की दूसरी लहर के बीच डीजीसीए (DGCA) ने भारत में कॉमर्शियल अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगी रोक 31 दिसंबर तक बढ़ा दी है. अब इस फैसले का बाद से देश में 31 दिसंबर तक न तो कोई व्यावसायिक अंतर्राष्ट्रीय उड़ान भारत से बाहर जाएगी और न ही दूसरे देश से स्वदेश आ सकेगी. हालांकि, चुनिंदा फ्लाइट्स को मंजूरी पहले की तरह जारी रहेगी. 

पहले 30 नवंबर तक लगी थी रोक
यानी इस समयावधि के दौरान भी 'वंदे भारत मिशन' के तहत जारी विशेष उड़ाने पहले की तरह जारी रहेंगी. इससे पहले डॉयरेक्टर जनरल सिविल एविएशन ने इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर रोक 30 नवंबर तक बढ़ाने का आदेश दिया था.

डीजीसीए के आदेश में कहा गया है कि उसकी ये पाबंदी  इंटरनेशनल कार्गो फ्लाइट्स की उड़ान पर लागू नहीं होगी. इसको लेकर डीजीसीए ने अपनी खास मंजूरी दी है. वहीं, इंटरनेशनल फ्लाइट को एजेंसी द्वारा चुने हुए रूट पर मंजूरी दी जा सकती है. 

देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी की वजह से 23 मार्च,2020 को कॉमर्शियल इंटरनेशनल फ्लाइट्स (Commercial international passenger flights) पर पाबंदी लगाई गई थी. हालांकि 25 मई से घरेलू उड़ानें शुरू कर दी गई थी. उसी दौरान विदेश में फंसे भारतीयों की घर वापसी यानी उन्हें स्वदेश लाने के लिए वंदे भारत मिशन चलाया गया था. जिस पर आज के आदेश का कोई असर नहीं होगा.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.