इंदौर के बाद भोपाल में भी शादियों पर कोरोना का ग्रहण, 30 तक नहीं बजेंगे ढोल-ताशे

इससे पहले जिले में 50 लोगों को शादी में शामिल होने की अनुमति थी. लेकिन बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से शादियों पर रोक लगा दी गई है. ऐसे में 22 अप्रैल से शुरू हो रही लगन में शादियां नहीं होंगी. 

इंदौर के बाद भोपाल में भी शादियों पर कोरोना का ग्रहण, 30 तक नहीं बजेंगे ढोल-ताशे

भोपाल: बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से इंदौर के बाद भोपाल में भी 30 अप्रैल तक शादियों पर रोक लगा दी गई है. इस संबंध में कलेक्टर ने आदेश जारी कर दिया है. नियमों का पालन कराया जा सके, इसलिए संबंधित अधिकारियों को भी आदेश जारी कर दिए गए हैं. 

कोरोना से इंसान ही नहीं, इंसानियत भी मर रही! बुजुर्ग महिला की मौत पर पड़ोसियों ने बंद किए दरवाजे

इससे पहले जिले में 50 लोगों को शादी में शामिल होने की अनुमति थी. लेकिन बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से शादियों पर रोक लगा दी गई है. ऐसे में 22 अप्रैल से शुरू हो रही लगन में शादियां नहीं होंगी. 

आपको बता दें कि सोमवार को जिले के पीपुल्स हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की कमी से 11 मरीजों की मौत की खबर आई थी. हालांकि अस्पताल प्रबंधन ने ऑक्सीजन की कमी से किसी भी मरीज की मौत से साफ इन्कार कर दिया है. अस्पताल प्रबंधन ने दावा करते हुए कहा कि 'केजुअल्टी की वजह से मरीजों की तबीयत बिगड़ी थी, ऑक्सीजन सप्लाई का इससे कोई लेना-देना नहीं है.'

Oxygen की कमी से भोपाल में 11 कोरोना मरीजों की मौत, अस्पताल प्रबंधन ने किया खंडन

वहीं, बीते गुरुवार को खंडवा में ऑक्सीजन की कमी से 11 मरीजों ने दम तोड़ दिया था. जबकि जबलपुर के दो अस्पतालों में कुल 5 लोगों की मौत हो गई थी. इसके अलावा एक दिन पहले यानी रविवार को शहडोल मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी के कारण 12 मरीजों की मौत हुई थी.

WATCH LIVE TV