साइबर फ्रॉड गिरोह का खुलासा, एमपी सहित झारखंड और आंध्र प्रदेश में फैला था नेटवर्क
X

साइबर फ्रॉड गिरोह का खुलासा, एमपी सहित झारखंड और आंध्र प्रदेश में फैला था नेटवर्क

मध्य प्रदेश में पुलिस ने झारखांड और आंध्रप्रदेश पुलिस के साथ संयुक्त कार्रवाई में बड़े साइबर फ्रॉड गिरोह का पर्दाफाश किया है. यह कार्रवाई वित्तीय फ्रॉड शाखा मंत्रालय (FCORD) के अंर्तगत हुई है.

साइबर फ्रॉड गिरोह का खुलासा, एमपी सहित झारखंड और आंध्र प्रदेश में फैला था नेटवर्क

मृदुल शर्मा/भोपाल: मध्य प्रदेश में पुलिस ने झारखांड और आंध्रप्रदेश पुलिस के साथ संयुक्त कार्रवाई में बड़े साइबर फ्रॉड गिरोह का पर्दाफाश किया है. यह कार्रवाई वित्तीय फ्रॉड शाखा मंत्रालय (FCORD) के अंर्तगत हुई है. अब तक इस नेटवर्क से जुडे 8 मुख्य अपराधियों को बालाघाट, रांची, सरायकेला, देवगढ़, और चितूर से गिरफ्तार किया गया है. इस नेटवर्क में शामिल 700 से अधिक लोग प्रवर्तन एजेंसियों की जांच के दायरे में हैं.

इस गिरोह के सदस्य ओटीपी धोखाधड़ी, क्रेडिट कार्ड धोखाधड़ी, ई फॉमर्स धोखाधड़ी, फर्जी आईडी, फर्जी मोबाइल नंबर, फर्जी पते, कालाबाजारी, कर चोरी, मनी लॉन्ड्रिंग और आदतन चोरी के माल के लेनदेन का गिरोह चला रहे थे.

ATS जवान के साथ ठेकेदार ने की मारपीट, जवान ने गुस्से में पिस्टल निकाली पर चलाई नहीं

इसकी जानकारी पुलिस को मिली थी. जिसके बाद पुलिस ने धरपकड़ शुरू की. इसमें धोखाधड़ी, कालाबाजारी, कर चोरी का पता चला और देशभर में 20 करोड़ रुपये से अधिक के मनी लॉन्ड्रिंग नेटवर्क का खुलासा हुआ. नेटवर्क की जड़ों तक पहुंचने के लिए आयकर विभाग और ईडी से संपर्क किया जा रहा है.

साइबर फ्रॉड के सदस्यों को पकड़ने के लिए अति. पुलिस महानिदेशक, उप महानिरीक्षक बालाघाट, पुलिस अधीक्षक बालाघाट के निर्देशन में 07 टीमों का गठन किया गया था. इसके बाद विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर बदमाशों को पकड़ा गया.

WATCH LIVE TV

Trending news