BSF अधिकारी ने कहा, देशविरोधी ताकतों को उचित जवाब देंगे सुरक्षा बल

BSF अधिकारी ने कहा, देशविरोधी ताकतों को उचित जवाब देंगे सुरक्षा बल

पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों के वाहन से विस्फोटकों से भरे वाहन को टकरा देने के मद्देनजर सुरक्षा बलों के सामने नये प्रकार का आतंकी खतरा उभरा है? इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा...

इंदौरः जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमले के चार दिन बाद बीएसएफ के एक आला अधिकारी ने सोमवार को कहा कि भारत की हिफाजत के लिये हमेशा तत्पर सुरक्षा बल देशविरोधी ताकतों को उचित जवाब देंगे. बीएसएफ के अतिरिक्त महानिदेशक एके शर्मा ने पुलवामा आतंकी हमले को लेकर यहां मीडिया के सवालों पर कहा, "हाल ही में एक घटना (पुलवामा आतंकी हमला) हुई है. इसके बाद सरकार और सुरक्षा बल अपना कार्य कर रहे हैं." 

शर्मा ने कहा, "भारत में या भारत के बाहर मौजूद देशविरोधी ताकतों द्वारा जब भी किसी घटना को अंजाम दिया जाता है, तो सरकार और सुरक्षा बल इसका उचित जवाब देने को हमेशा पूरी तरह तैयार और तत्पर रहते हैं. इस बार भी इन ताकतों को उचित जवाब दिया जायेगा." 

पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों के वाहन से विस्फोटकों से भरे वाहन को टकरा देने के मद्देनजर सुरक्षा बलों के सामने नये प्रकार का आतंकी खतरा उभरा है. इस बारे में पूछे जाने पर बीएसएफ के आला अधिकारी ने कहा, "(देशविरोधी ताकतों द्वारा) एक नया तरीका इस्तेमाल किया गया है, तो इससे निपटने के लिये नयी सोच के साथ पुख्ता तैयारी भी हो रही है ताकि ऐसी घटना (पुलवामा आतंकी हमला) दोबारा न हो सके." 

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों पर हुए सबसे बड़े आतंकी हमलों में शामिल वारदात में गुरुवार को सीआरपीएफ के कम से कम 40 जवान शहीद हो गये थे. पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है. 

शर्मा, बीएसएफ की 49 वीं अंतरसीमांत प्लाटून हथियार निशानेबाजी स्पर्धा के समापन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा लेने इंदौर पहुंचे थे. बीएसएफ के 11 सीमांतों (फ्रंटियर) की हिस्सेदारी वाली प्रतिष्ठित स्पर्धा में राजस्थान सीमांत ने अव्वल रहकर ओवरऑल चैम्पियन के खिताब पर कब्जा जमाया. बीएसएफ के इतिहास में पहली बार इस स्पर्धा में बल की महिला कर्मियों ने भी हिस्सा लिया. 

शर्मा ने बताया कि बीएसएफ में महिला कर्मियों की भूमिका लगातार बढ़ रही है. उन्होंने कहा, "बीएसएफ की महिला कर्मी अपनी अलग-अलग जिम्मेदारियां बखूबी निभा रही हैं. उन्हें सरहदों से सटे मोर्चों पर देश के दुश्मनों के खिलाफ अत्याधुनिक हथियारों के कुशल इस्तेमाल का प्रशिक्षण भी दिया गया है." 

(इनपुट भाषा)

ये भी देखे

Trending news