close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

छत्तीसगढ़: सुरक्षा बलों पर बड़े हमले की फिराक में नक्सली, खुफिया एजेंसियों ने किया अलर्ट

केंद्रीय खुफिया एजेंसियों ने राज्य सरकार और अर्धसैनिक बलों को भेजे एक अलर्ट में कहा है कि नक्सलियों के कई ग्रुप छत्तीसगढ़ के बस्तर, बीजापुर और सुकमा में सक्रिय हैं.

छत्तीसगढ़: सुरक्षा बलों पर बड़े हमले की फिराक में नक्सली, खुफिया एजेंसियों ने किया अलर्ट
खुफिया एजेंसियां छत्तीसगढ़ के साथ साथ महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में भी नक्सलियों के मूवमेंट को मॉनीटर कर रही है...(फाइल फोटो)

रायपुर: छत्तीसगढ़ में एंटी नक्सल ऑपरेशन में तैनात सुरक्षा बलों पर नक्सली बड़े हमले की फिराक में हैं. केंद्रीय खुफिया एजेंसियों ने राज्य सरकार और अर्धसैनिक बलों को भेजे एक अलर्ट में कहा है कि नक्सलियों के कई ग्रुप छत्तीसगढ़ के बस्तर, बीजापुर और सुकमा में सक्रिय हैं और इन नक्सलियों के टॉप लीडर्स के इंटरसेप्ट से जानकारी मिली है कि वो सुरक्षा बलों पर हमले की प्लानिंग में लगे हैं. पिछले कुछ महीनों में लगातार हो रहे एंटी-नक्सल ऑपरेशन में कई नक्सलियों को सुरक्षाबल ढेर कर चुके हैं. ऐसे में नक्सली सुरक्षाबलों की इस कारवाई का बदला लेने की फिराक में लगे हैं.

खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के मुताबिक, छत्तीसगढ़ के ईस्ट बस्तर डिवीजन में कमांडर संतोष जो 20-25 नक्सलियों के एक ग्रुप के साथ देखा गया है जिसने दंतेवाड़ा के एक गांव में जाकर मीटिंग कर चुका है. इस मीटिंग में इन नक्सलियों ने फैसला किया है कि कुछ गांव वालों को अपने साथ मिलाकार वो सुरक्षाबलों के पुष्पल कैंप पर हमला करेगें. ऐसी ही एक और रिपोर्ट के मुताबिक सुकमा के चिंतनगुफा इलाके के आस पास नक्सलियों के डिप्टी कमांडर को अपने साथ 40-50 नक्सलियों के मूवमेंट की जानकारी मिली है जो सुरक्षाबलों की पेट्रोलिंग पार्टी पर हमला करने की साजिश कर रहे हैं. 

एंटी नक्सल ऑपरेशन में तैनात एक केंद्रीय सुरक्षा बल के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक. ''नक्सलियों के लगातार हो रहे मूवमेंट की खुफिया जानकारी को सुरक्षाबल काफी गंभीरता से ले रहे हैं. बस्तर, बीजापुर और सुकमा जैसे इलाकों में नक्सलियों सक्रिय हैं. इन इलाकों में सुरक्षा बल हमेशा ही अलर्ट पर रहते हैं.''

नक्सलियों के कई ग्रुप अलग अलग इलाकों में जाकर गांव वालों को डरा धमका रहे हैं. नक्सलियों गांव वालों पर इस बात का दवाब बना रहे हैं कि वो सुरक्षाबलों के साथ कोई भी मेलजोल न रखे. हालांकि, नक्सलियों के इन धमकियों को कोई खास असर नहीं हो रहा है जिससे नक्सली परेशान हैं.

खुफिया एजेंसियां छत्तीसगढ़ के साथ साथ महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में भी नक्सलियों के मूवमेंट को मॉनीटर कर रही है. एजेंसियों के रिपोर्ट के मुताबिक, 20 से 25 नक्सलियों के ग्रुप को गढ़चिरौली के तदगांव में देखा गया है जिन्होंने 28 जनवरी को इन इलाके में एक गांव में जाकर लोगों को डराया धमकाया और गांव वालों से राशन भी लिया. साथ ही जोर जबरदस्ती कर एक गांव के दो लोगों को वो अपने साथ ले कर चले गए.