MP के इन 17 जिलों में कम बारिश से किसानों को झेलनी पड़ सकती है मार

राज्य के 17 जिलों में अब तक बारिश सामान्य के आंकड़े के करीब भी नहीं पहुंच पायी है. माना जा रहा है कि इन जिलों में 20 से 40 फीसदी तक कम बरसात हुई है. केवल 29 जिलों में ही वर्षा का आंकड़ा सामान्य के आसपास आ पाया है. 3 महीने बीत जाने के बाद भी अगर अब बरसात नहीं होती तो किसानों की फसल सूख जाएगी. 

MP के इन 17 जिलों में कम बारिश से किसानों को झेलनी पड़ सकती है मार
सांकेतिक तस्वीर

संदीप भम्मरकर/भोपाल: जहां सावन के महीने में जमकर बारिश होती है, वहीं इस साल मध्य प्रदेश में सावन का महीना सूखा ही जा रहा है. राज्य के 17 जिलों में अब तक बारिश सामान्य के आंकड़े के करीब भी नहीं पहुंच पायी है. माना जा रहा है कि इन जिलों में 20 से 40 फीसदी तक कम बरसात हुई है. केवल 29 जिलों में ही वर्षा का आंकड़ा सामान्य के आसपास आ पाया है. 3 महीने बीत जाने के बाद भी अगर अब बरसात नहीं होती तो किसानों की फसल सूख जाएगी. 

आपको बता दें कि मौसम विभाग ने जिन 17 जिलों में सामान्य से कम बारिश बताई है. उनमें धार, अलीराजपुर, भिंड, श्योपुर, गुना, नरसिंहपुर, मंडला, ग्वालियर, शिवपुरी, टीकमगढ़, छतरपुर, सागर, दमोह, जबलपुर, होशंगाबाद और बालाघाट जिले शामिल हैं. इन 17 जिलों में समूचे प्रदेश का एक तिहाई हिस्सा शामिल होता है.

इसके अलावा राज्य के 4 जिलों में अब तक सामान्य से ज्यादा बारिश दर्ज की गयी है. इन जिलों में  बड़वानी, बुरहानपुर, रीवा और सिंगरौली जिले शामिल हैं. 

बारिश का जिलेवार आंकड़ा
जारी रिपोर्ट के मुताबिक 29 जिलों में बारिश सामान्य के आसपास रही है. मौसम विभाग के मुताबिक सामान्य से 20 फीसदी कम बारिश होने पर भी संबंधित जिलों में सामान्य बारिश वाले जिलों में दर्ज किया जाता है. इनमें नीमच में सामान्य से 14 फीसदी कम, रतलाम में सामान्य से 5 फीसदी, झाबुआ में सामान्य से 5 फीसदी, उज्जैन में सामान्य से 4 फीसदी, आगर मालवा में सामान्य से 17 फीसदी, राजगढ़ में सामान्य से 19 फीसदी, शाजापुर में सामान्य से 17 फीसदी, देवास में सामान्य से 15 फीसदी कम बरसात दर्ज की गई है.

इंदौर में सामान्य से 3 फीसदी, खरगौन में सामान्य से 11 फीसदी, खंडवा में सामान्य से 16 फीसदी, हरदा में सामान्य से 9 फीसदी, सीहोर में सामान्य से 14 फीसदी, भोपाल में सामान्य से 13 फीसदी, विदिशा में सामान्य से 8 फीसदी, रायसेन में सामान्य से 8 फीसदी, बैतूल में सामान्य से 11 फीसदी, छिंदवाड़ा में सामान्य से 1 फीसदी, सिवनी में सामान्य से 11 फीसदी कम बारिश हुई.

अशोक नगर में सामान्य, मुरैना में सामान्य से 6 फीसदी कम, दतिया में सामान्य से 3 फीसदी कम, पन्ना में सामान्य से 6 फीसदी कम, सतना में सामान्य से 17 फीसदी कम, सीधी में सामान्य से  10 फीसदी कम, शहडोल में सामान्य से 10 फीसदी कम, उमरिया में सामान्य से 1 फीसदी कम, अनूपपुर में सामान्य से 4 फीसदी कम और डिंडोरी में सामान्य से 3 फीसदी कम बारिश हुई है.