करते हैं पब्लिक Wi-Fi का इस्तेमाल, फोन की एक सेटिंग आपको बचा सकती है हैकिंग से

पब्लिक वाई-फाई यूज करने वाले यूजर्स की ज्यादातर जानकारी क्रेडिट कार्ड की डीटेल्स, पासवर्ड, चैट मैसेज, ईमेल आईडी, पैन नंबर, आधार नंबर सहित अन्य शामिल हैं. इसे ही हैकर चुराने की कोशिश कते हैं.

करते हैं पब्लिक Wi-Fi का इस्तेमाल, फोन की एक सेटिंग आपको बचा सकती है हैकिंग से
प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: हम आप अक्सर पब्लिक Wi-Fi का इस्तेमाल करते हैं. फ्री के वाईफाई से हम मोबाइल का डेटा तो बचा लेते हैं, लेकिन इसके इस्तेमाल से हैकिंग के शिकार हो भी हो सकते हैं. हालांकि इसका मतलब यह कतई नहीं है कि आप फ्री वाईफाई का इस्तेमाल न करें. सावधानी से वाईफाई का इस्तेमाल किया जाए तो आप हैकरों के पैतरे से बच सकते हैं. मोबाइल फोन की एक सेटिंग को ऑन करने से आप अपनी पर्सनल डिटेल्स के चोरी होने और हैकर्स की जाल में फंसने से बच सकते हैं. 

क्या है आइडेंटिटी थेफ्ट?
पब्लिक वाई-फाई यूज करने वाले यूजर्स की ज्यादातर जानकारी क्रेडिट कार्ड की डीटेल्स, पासवर्ड, चैट मैसेज, ईमेल आईडी, पैन नंबर, आधार नंबर सहित अन्य शामिल हैं. इसे ही हैकर चुराने की कोशिश कते हैं. इसे सामान्य भाषा में आइडेंटिटी थेफ्ट कहते हैं. 

किन साइट्स पर ज्यादा खतरा?
फोन का वाईफाई ऑन होने पर आपको मौजूद Wi-Fi का अलर्ट आता होगा. संभव है कि यह हैकरों की चाल हो. वाईफाई का इस्तेमाल वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क ( VPN) साइट्स का इस्तेमाल करने के लिए किया जा सकता है. ऐसी वेबसाइट्स का एक्सेस सबके पास नहीं होता है. ऑफिस की वेबसाइट मुफ्त वाईफाई हैकरों के निशाने पर होती हैं. इसलिए ध्यान रहे जब भी आप फ्री वाईफाई का इस्तेमाल कर रहे हों उस समय ऑनलाइन बैकिंग न करें. ना ही किसी पॉपअप लिंक पर क्लिक करें. 

क्या है इस सेटिंग में?
साथ ही अगर आप भी फ्री वाईफाई का इस्तेमाल करते हैं तो आपको मोबाइल की सिर्फ एक सेटिंग को ऑन करना है. ऐसा करने से आप malicious या संवेदनशील नेटवर्क से बच सकते हैं. साथ ही अपनी डेटा चोरी को बचा सकते हैं. इसके लिए ज्यादा कुछ करना नहीं है. मोबाइल के Data Connections में जाकर Wi-Fi को ऑन करें. इसके बाद Wi-Fi की विंडो खुलने के बाद राइट साइड में तीन डॉट्स पर  टैप करें. इसके बाद Advanced पर टैप करें. यहां टैप करने के बाद आपको कई सारे ऑप्शन नजर आएंगे. आप Detect suspicious network को टैप करके ऑन कर लेना है. 

ऐसा करने से क्या होगा?
इसे ऑन करने के बाद जब भी आप फ्री वाईफाई के जरिए मोबाइल को कनेक्ट करेंगे तो सस्पीसियस नेटवर्क खुद-ब-खुद उस नेटवर्क से मोबाइल को कनेक्ट नहीं करेगी. अगर एक बार कर भी लिया तो इसके जरिए अगर मोबाइल हैक करने की कोई कोशिश करता है तो वाईफाई अपने बंद हो जाएगा. दोबारा भी फिर उस फ्री वाईफाई से मोबाइल कनेक्ट नहीं होगा. 

कैसे रहें सुरक्षित?
अपनी जानकारी सुरक्षित रखने के लिए आप पब्लिक वाईफाई के नेटवर्क से शॉपिंग या नेटबैंकिंग जैसी एक्टिविटी बिलकुल ना करें. ओपन इंटरनेट नेटवर्क से वित्तीय ट्रांजेक्शन बिलकुल ना करें. घर के वाई-फाई को सिक्योर बनायें और पासवर्ड कठिन रखें. आपकी सुरक्षा अपने हाथ में है. सावधान रहें और हर समय चौकसी बरतें. कोई हैकर हर वक्त आपके आंकड़ों पर नजर बनाए हुए है, जिससे सिर्फ सतर्कता ही बचाव है. 

WATCH LIVE TV