इंदौर में कालाबाजारी करने वालों की चल-अचल संपत्ति पर चलेगा बुलडोजर

प्रदेश में जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ रासुका के आदेश दिए गए हैं. बावजूद इसके लोगों में इसका भय नहीं है. इंदौर क्राइम ब्रांच ने रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

इंदौर में कालाबाजारी करने वालों की चल-अचल संपत्ति पर चलेगा बुलडोजर
Play

इंदौर: प्रदेश में जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ रासुका के आदेश दिए गए हैं. बावजूद इसके लोगों में इसका भय नहीं है. इंदौर क्राइम ब्रांच ने रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इनके कब्जे से रेमडेसिविर, 2 मोबाइल फोन और एक कार जब्त की है. 

इससे पहले भी जिला प्रशासन ने कई लोगों के खिलाफ कार्रवाई कर चुकी है. पहले आरोपियों के खिलाफ रासुका के तहत मामला दर्ज किया गया. अब आरोपियों की काली कमाई से बनी संपत्ति भी ध्वस्त होगी. 

रोजेदार कोरोना काल में फरिश्ते बन कर रहे मरीजों की मदद, गाड़ी को एम्बुलेंस बनाकर दे रहे फ्री सेवा

रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी मामले में 10 आरोपियों को नगर निगम ने नोटिस भेजा है. इनसे संपत्ति की जानकारी मांगी गई है. निगम प्रशासन ने एक दिन का समय दिया. इसके बाद इनके अवैध साम्राज्य पर निगम का बुलडोजर चलेगा. 

खतरनाक लड़ाई का viral video : नेवले से भिड़ रहा था चूहा, फिर हलक में आ गई जान

आपको बता दें कि जीवन रक्षक दवाओं की कालाबाजारी करने वाले आरोपियों के खिलाख सीएम ने सख्त कार्रवाई की आदेश दिए हैं. कुछ दिन पहले मुख्यमंत्री ने आरोपियों के चल-अचल संपत्ति को लेकर पुलिस को बड़ी कार्रवाई करने के फ्री हैंड का आदेश दिया था. इसी के बाद से इंदौर जिला प्रशासन चल-अचल बेनामी संपत्ति को लेकर कार्रवाई शुरू की है.

WATCH LIVE TV