जबलपुरः नगर-निगम के डंपर ने मैदान में सो रहे व्यक्ति को जिंदा मिट्टी में दफन किया

जबलपुर में दिन भर काम करने के बाद मैदान में सो रहे मजदूर के ऊपर नगर निगम के डंपर द्वारा मिट्टी डालने का मामला सामने आया है. 

जबलपुरः नगर-निगम के डंपर ने मैदान में सो रहे व्यक्ति को जिंदा मिट्टी में दफन किया
8 घंटों तक मलबे में दबा रहा मजदूर

नई दिल्लीः जबलपुर में दिन भर काम करने के बाद मैदान में सो रहे मजदूर के ऊपर नगर निगम के डंपर द्वारा मिट्टी डालने का मामला सामने आया है. जिसके कारण मजदूर पूरी रात मिट्टी में दबा रहा. दरअसल, दिनभर की थकान के बाद व्यक्ति आराम करने के लिए सरकारी मैदान में किनारे पर जा कर सो गया. थकान ज्यादा होने के कारण उसे डंपर के आने का पता नहीं चला और इससे पहले की मजदूर मदद के लिए आवाज लगाता पूरी मिट्टी उसके ऊपर थी. व्यक्ति सारी रात मिट्टी में ही दबा रहा. जिससे वह बेहोश हो गया. मॉर्निंग वॉक पर निकले लोगों को मजदूर के बारे में तब पता चला जब लोगों ने एक कुत्ते को मजदूर का हांथ खीचते देखा.

रात भर मलबे में दबा रहा मजदूर
मजदूर की ऐसी हालत देख पहले तो लोगों को लगा कि मजदूर मर चुका है और पुलिस बल बुला ली. जांच में पता चला कि मजदूर जिंदा है, लेकिन बहुत देर तक मिट्टी के नीचे दबे रहने के कारण वह बेहोश हो गया है. जिसके बाद व्यक्ति को मलबे से निकाला गया और उसे होश में लाया गया. जिसके बाद मजदूर को इलाज के लिए विक्टोरिया अस्पताल भेजा गया.

मैदान में चल रहा है काम
दरअसल, नौदराब्रिज से लगे हनुमान मंदिर के पास एक खाली मैदान है. मैदान में गड्ढे होने की वजह से उसमें काफी समय से उसे मिट्टी और मलबे से पूरा जा रहा है. मैदान खाली होने की वजह से कई मजदूर यहां अपनी थकान मिटाने के लिए यहीं सो जाते हैं. रविवार को 24 वर्षीय विजय विश्वकर्मा भी अपनी थकान मिटाने यहीं लेट गया. जिसके बाद रात को आए एक डंपर ने उसे पूरी तरह से मिट्टी से ढंक दिया. 

मजदूर को भेजा गया अस्पताल
व्यक्ति के मिट्टी में दबे होने की खबर जैसे ही पुलिस को लगी वह तुरंत मौके पर पहुंच गई. व्यक्ति को मलबे में देख तुरंत ही कुछ मजदूरों को बुलाकर व्यक्ति को मलबे से बाहर निकाला गया. व्यक्ति के मलबे से बाहर निकलने पर पता चला कि वह जिंदा है. जिसके बाद पानी के छींटे डालकर उसे होश में लाया गया. जिसके बाद उसे प्राथमिक उपचार के लिए जिले के विक्टोरिया अस्पताल भेजा गया. जहां उसकी हालत ठीक बताई जा रही है.