close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेशः बहू ने ससुर और पति से शहर में लगवाए पौधे, शादी से पहले रखी थी शर्त

देवयानी शहर के एक स्कूल में पढ़ाती हैं और पर्यावरण में बढ़ रहे प्रदूषण के चलते उन्होंने अपने ससुराल पक्ष से यह मांग की थी कि शादी से पहले वे लोग अपने आस-पास के इलाकों में पौधारोपण करें.

मध्य प्रदेशः बहू ने ससुर और पति से शहर में लगवाए पौधे, शादी से पहले रखी थी शर्त
देवयानी ने शादी से पहले अपने ससुराल पक्ष के सामने पौधारोपण की शर्त रखी थी. (फाइल फोटो)

ग्वालियरः मध्य प्रदेश के ग्वालियर में शादी से पहले अपने ससुराल पक्ष और पति से 100 पौधे लगाने का संकल्प लेने वाली देवयानी उर्फ नीतू की इच्छा आखिरकार पूरी हो गई है. नीतू के ससुर एसडीओपी उपेंद्र दीक्षित ने जयारोग्य चिकित्सालय समूह में अपने बेटे और बेटे, बहू और शहरवासियों के साथ मिलकर 51 पौधे लगाए हैं. बता दें देव्यानी औ आशू दीक्षित की शादी 8 जुलाई को संपन्न हुई थी. देवयानी शहर के एक स्कूल में पढ़ाती हैं और पर्यावरण में बढ़ रहे प्रदूषण के चलते उन्होंने अपने ससुराल पक्ष से यह मांग की थी कि शादी से पहले वे लोग अपने आस-पास के इलाकों में पौधारोपण करें तभी वह ये शादी करेंगी.

बता दें शहर के इंद्रमणि नगर में रहने वाले पंडित अशोक दुबे की बेटी नीतू का विवाह श्योपुर के रहने वाले डॉक्टर आशू दिक्षित के साथ तय हुआ था. नीतू ने पर्यावरण प्रेम के चलते अपने होने वाले ससुराल जन और पति से शर्त रखी थी कि वे पहले फलदार और छायादार पौधे लगाएं  उसके बाद ही वो फेरे लेगी. जिसके बाद नीतू के ससुर ने इस शर्त में छुपे पर्यावरण प्रेम और भावना को देखते हुए वचन दिया कि हम शादी के बाद अगले महीने ऐसे 100 पौधे लगाएंगे और जीवन भर उनका ख्याल रखने की व्यवस्था भी करेंगे. 

ग्वालियरः बंदूक का लाइसेंस चाहिए या शुरू करना चाहते हैं पेट्रोल पंप, हर काम से पहले लगाने होंगे पेड़

ससुराल पक्ष का वचन पाकर नीतू ने डॉक्टर आशु के साथ फेरे लिए थे. पौधारोपण के इस प्रथम चरण में 51 पौधों को जयारोग्य अस्पताल समूह परिसर में लगाया गया है. पौधारोपण करने के दौरान, दाता बंदी छोड़ गुरुद्वारा के बाबा लक्खा सिंह, दंदरौआ सरकार रामदास महाराज, गंगा दास की शाला के महंत रामसेवक दास महाराज और जेएएच के अधीक्षक डॉ अशोक मिश्रा मौजूद रहे. वहीं शहर में नई नवेली दुल्हन की शर्त के बारे में पता चलने के बाद लोग देवयानी के इस कदम की काफी तारीफ कर रहे हैं.