मध्य प्रदेश में पंचायत स्तर पर बनेगा मास्टर प्लान: मंत्री कमलेश्वर पटेल

गांवों में पेयजल आपूर्ति के लिए पहले से प्लान बनाएं, निर्माणाधीन स्टेडियम का कार्य समय-सीमा में पूरा करें और संभाग स्तर पर पंच-सरपंच सम्मेलन जल्द करवाएं. 

मध्य प्रदेश में पंचायत स्तर पर बनेगा मास्टर प्लान: मंत्री कमलेश्वर पटेल
प्रदेश के पंचायत व ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल (फोटो साभारः facebook)

भोपालः मध्य प्रदेश के पंचायत व ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल ने ग्राम पंचायत स्तर पर मास्टर प्लान बनाने निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि अच्छा कार्य करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को सम्मानित किया जाएगा और लापरवाही पर सख्त कार्रवाई भी की जाएगी. विभागीय समीक्षा बैठक में शुक्रवार को पटेल ने कहा, "हर ग्राम पंचायत का मास्टर प्लान बने. मास्टर प्लान के आधार पर ही ग्राम पंचायत का सुनियोजित विकास हो. पटेल ने कहा कि जिस अधिकारी के पास जो जिम्मेदारी है, उसका निर्वहन जनहित में करें. विभाग का काम ग्राउंड लेवल पर दिखना चाहिए. जो सुविधा जिसके लिए है, उसको मिलना सुनिश्चित करें."

VIDEO: शिवराज सिंह चौहान के नाम पर पोता दिया पेंट, बीजेपी-कांग्रेस आमने-सामने

वहीं उन्होंने आगे कहा कि अच्छा कार्य करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को सम्मानित किया जाएगा और लापरवाही पर सख्त कार्रवाई भी की जाएगी. मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना में गुणवत्ताोूर्ण कार्य करवाए जाएं. क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत कराएं. शौचालय गुणवत्तापूर्ण और उपयोगी होना चाहिए. जो कार्य पूरे हो चुके हैं, उनका भुगतान समय पर करें. 

#मध्यप्रदेश में बदलेगा राशन की दुकान के खुलने का समय, जानिए क्यों ?

उन्होंने प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना को अमल में लाने में देश में प्रदेश के प्रथम स्थान पर आने पर बधाई दी. प्रदेश में 14 लाख 29 हजार 84 के लक्ष्य के विरुद्ध 11 लाख 90 हजार 823 आवास बनाए जा चुके हैं. इस तरह से 83.33 प्रतिशत लक्ष्य पूरा हो चुका है, जो अन्य प्रदेशों से अधिक है. हिमाचल प्रदेश 79.59 प्रतिशत के साथ दूसरे स्थान पर है. पटेल ने कहा कि जिन जिलों में वर्षा कम हुई है, वहां के गांवों में पेयजल आपूर्ति के लिए पहले से प्लान बनाएं, निर्माणाधीन स्टेडियम का कार्य समय-सीमा में पूरा करें और संभाग स्तर पर पंच-सरपंच सम्मेलन जल्द करवाएं.