जमीनी विवाद को लेकर दबंगों ने मॉ बेटे को बेरहमी से पीटा

प्रमोद कुशवाहा के घर पर पहले तो अपनी छत के ऊपर से जमकर पत्थर बरसाए और मना करने पर गाली गलौज करते हुए दबंगों ने प्रमोद पर लाठियों से हमला कर दिया और साथ ही उसकी मॉ को भी पीटा.

जमीनी विवाद को लेकर दबंगों ने मॉ बेटे को बेरहमी से पीटा
हमलावरों की मारपीट से प्रमोद व उसकी मॉ गोरीबाई का सिर फट गया तथा शरीर के विभिन्न अंगों में गंभीर चोटे आई

टीकमगढ़: टीकमगढ जिले के बम्हौरी कला थाना क्षेत्र के पहाड़ी बुजुर्ग गांव में दबंगों ने पड़ोस में रहने वाले एक युवक पर न केवल सरेआम हमला किया बल्कि अपने बेटे को बचाने पहुंची मॉ को भी दबंगों ने बेरहमी से पीटा. बताया जा रहा है कि मामला जमीनी विवाद का है. युवक का नाम प्रमोद है. उसी के पड़ोस में रहने वाले गांव के दबंगों बालिराम, हरकिशन व महेश ने जमीनी विवाद को लेकर प्रमोद कुशवाहा के घर पर पहले तो अपनी छत के ऊपर से जमकर पत्थर बरसाए और मना करने पर गाली गलौज करते हुए दबंगों ने प्रमोद पर लाठियों से हमला कर दिया और साथ ही उसकी मॉ को भी पीटा. मारपीट में घायल मॉ बेटे को इलाज के लिये जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. 

बता दें कि दबंगों ने मॉ बेटे के ऊपर जमकर लाठियां बरसाई और तब तक बेरहमी से पिटाई करते रहे जब तक कि प्रमोद अचेत नही हो गया. प्रमोद की जान बचाने के लिए मॉ चिल्लाती रही लेकिन मौके पर उपस्थित लोग वीडियों बनाते रहे पर दबंगों के डर के कारण किसी ने बचाने की जहमत नही उठाई. प्रमोद कुशवाहा के मुताबिक घटना की सूचना के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नही की. 

गौरतलब है कि, हमलावरों की मारपीट से प्रमोद व उसकी मॉ गोरीबाई का सिर फट गया तथा शरीर के विभिन्न अंगों में गंभीर चोटे आई. घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची डायल 100 वाहन की टीम दोनों घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र जतारा ले गयी जहां घायलों की हालत खराब होने पर डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से घायल प्रमोद व उसकी मॉ को इलाज के लिये जिला अस्पताल रैफर कर दिया. घायल प्रमोद कुशवाहा का कहना है कि गांव के दबंग उसकी जमीन पर मकान बना रहे है. जिसका केस न्यायालय में चल रहा है. इसके बावजूद भी वह जबरन अपनी दबंगई के चलते निर्माण कार्य कर रहे हैं. इस मामले की सूचना देने के बाद भी पुलिस आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नही कर रही है, वहीं इस मामले में पुलिस अधीक्षक का कहना है कि मामल दर्ज कर वैधानिक कार्रवाई की जा रही है.