close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

MP: शेविंग करवाने सैलून गए दलित से दबंगों ने की मारपीट, गला दबाकर की मारने की कोशिश

सोनकच्छ पुलिस थाने के प्रभारी पंकज द्विवेदी ने कहा कि अपनी शिकायत में युवक ने आरोप लगाया है कि पहले उस पर जातिसूचक टिप्पणियां की गईं. इसके बाद उसे ईंट से मारा गया. पुलिस ने एसएसी/एसटी एक्ट के तहत संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है. मामले में आरोपियों की अभी गिरफ्तारी नहीं हुई है.

MP: शेविंग करवाने सैलून गए दलित से दबंगों ने की मारपीट, गला दबाकर की मारने की कोशिश
राजपाल के परिजनों का कहना है कि उनके बेटे के गले पर लात से दबाकर मारने का प्रयास किया गया.

भोपालः मध्यप्रदेश के देवास में ऊंची जाति के लोगों ने कथित रूप से एक दलित युवक को जमकर पीट दिया. मामला जिले के सोनकच्छ में बीसाखेड़ी गांव का है. दलित युवक राजपाल चौहान गांव के एक सैलून में दाढ़ी बनवाने गया था. सोनकच्छ पुलिस ने बताया कि राजपूत समुदाय के लोगों पर दलित युवक को पीटने का आरोप है. सोनकच्छ पुलिस थाने के प्रभारी पंकज द्विवेदी ने कहा कि अपनी शिकायत में युवक ने आरोप लगाया है कि पहले उस पर जातिसूचक टिप्पणियां की गईं. इसके बाद उसे ईंट से मारा गया. पुलिस ने एसएसी/एसटी एक्ट के तहत संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है. मामले में आरोपियों की अभी गिरफ्तारी नहीं हुई है.

इससे पहले दबंगों ने सैलून में दाढ़ी-हजामत करवा रहे युवक को बीच में ही उठा दिया. पहले उसको गालियां दीं और फिर उसके साथ मारपीट की. युवक ने बताया कि उसे लाठी-डंड़ों से पीटा गया. इतनी ही उसके गले पर लात रखकर दबाने का भी प्रयास किया गया. मौके पर मौजूद लोगों ने बीच बचाव किया. युवक को पहले सोनकच्छ थाने और उसके बाद अस्पताल ले जाया गया. प्राथमिक उपचार के बाद युवक को देवास जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया.

देखें लाइव टीवी

SC/ST एक्ट के खिलाफ दायर याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट एक साथ कर सकता है सुनवाई

बीसाखेड़ी के रविदास मोहल्ले में रहने वाले युवक राजपाल को अपने किसी जानकार के शादी समारोह में शामिल होना था. इससे पहले वह बीसाखेड़ी के बस स्टैंड पर मनीष वर्मा के दुकान में दाढ़ी-हजामत कराने लगा. इस बीच रोहित सिंह नाम का युवक वहां पहुंचा और अपना नंबर पहले बताते हुए गाली गलौज शुरू कर दी.

SC/ST एक्ट: केंद्र की पुनर्विचार याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को होगी सुनवाई

राजपाल के परिजनों का कहना है कि उनके बेटे के गले पर लात से दबाकर मारने का प्रयास किया गया. युवक के सिर, गले, सीने और पैर में चोटें आई हैं. वहीं युवक के परिवार वाले पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट नहीं हैं. अस्पताल पहुंचे युवक के परिजनों का कहना है कि आरोपियों का नाम बताने के बावजूद पुलिस ने नाम से शिकायत दर्ज नहीं की है. युवक के दोस्तों ने बताया कि आरोपियों की संख्या अधिक थी, लेकिन तीन-चार लोगों के शामिल होने की शिकायत दर्ज की गई है. वहीं आंबेडकर राष्ट्रीय युवक संघ ने एसपी कार्यालय पहुंचकर आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग की.