MP: ग्वालियर जेल में स्मैक ले जा रहा था प्रहरी, निलंबित

प्रहरी स्मैक की पुड़िया चश्मे के कवर में रखकर जेल के अंदर ले जा रहा था, लेकिन गेट पर तलाशी में उसे हवलदार ने पकड़ लिया.

MP: ग्वालियर जेल में स्मैक ले जा रहा था प्रहरी, निलंबित
प्रतीकात्मक तस्वीर
Play

करण मिश्रा/ग्वालियरः मध्य प्रदेश के ग्वालियर केंद्रीय जेल में पदस्थ प्रहरी द्वारा स्मैक जेल के  अंदर ले जाने का मामला सामने आया है, लेकिन इससे पहले कि वह स्मैक लेकर अंदर पहुंचता उससे पहले ही पकड़ा गया. दरअसल, प्रहरी स्मैक की पुड़िया चश्मे के कवर में रखकर जेल के अंदर ले जा रहा था, लेकिन गेट पर तलाशी में उसे हवलदार ने पकड़ लिया. जब उससे स्मैक की पुड़िया लेना चाही तो प्रहरी ने हवलदार के साथ झूमा झटकी भी कर दी और भागने की कोशिश की, लेकिन यह पूरा घटनाक्रम सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया. इसके बाद प्रहरी को निलंबित कर दिया गया.

VIDEO: दीवार फोड़ स्कूल क्लास में जा घुसा ट्रैक्टर, बच्चों की निकल पड़ी चीखें

इस पूरी घटना से केंद्रीय जेल ग्वालियर की सुरक्षा पर एक बार फिर सवाल खड़े हो गए हैं. एडीजी जेल ने भी पूरी घटना की जानकारी जेल अधीक्षक से ली है और इसकी जांच के आदेश दिए हैं. जेल प्रहरी शिवचरण शर्मा करीब दो साल से केंद्रीय जेल में पदस्थ है और वह जब स्मैक जेल के अंदर ले जाने लगा तभी अंदर जाने से पहले डीएफएमडी से चैकिंग हुई जिसके चलते डीएफएमडी से जैसे ही निकले तो रेड बीप हुई. इस पर हवलदार ने उनकी तलाशी ली तो चश्मे के कवर के अंदर स्मैक की पुड़िया प्रहरी के पास मिली.

रायपुरः 5 करोड़ के नकली नोट के साथ पति-पत्नी गिरफ्तार, बोले- दिल्ली के दोस्त से मिला Idea

वहीं पकड़े जाने के बाद प्रहरी ने हंगामा शुरू कर दिया. हंगामा होने पर जेल अधीक्षक मौके पर पहुंचे और सीसीटीवी कैमरों के फुटेज देख प्रहरी को तत्काल निलंबित कर दिया. जेल में मादक पदार्थ पहुंचने की शिकायत करीब एक महीने पहले वरिष्ठ अधिकारियों को मिली थी. इसके बाद कलेक्टर और एसपी ने भी जेल का निरीक्षण किया था, लेकिन कोई मादक पदार्थ नहीं मिला था. जब प्रहरी ही स्मैक के साथ पकड़ा गया तो यह साफ हो गया है कि स्मैक किसी कैदी के लिए ही ले जाई जा रही होगी. स्मैक किस कैदी के लिए ले जाई जा रही थी, इसकी जांच की जा रही है.