Madhya Pradesh में शिवराज सरकार का चुनावी कार्ड, महंगाई भत्ते में इजाफा, देखिए कितने प्रतिशत की हुई बढ़ोत्तरी
X

Madhya Pradesh में शिवराज सरकार का चुनावी कार्ड, महंगाई भत्ते में इजाफा, देखिए कितने प्रतिशत की हुई बढ़ोत्तरी

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के सभी शासकीय कर्मचारियों के लिए एक बड़ी खुशखबरी सामने आई है. शिवराज सरकार (Shivraj Government) ने महंगाई भत्ते (Dearness Allowance) में दिल खोलकर बढ़ोत्तरी की है. दरअसल 7th pay commission के तहत मध्य प्रदेश के कर्मचारियों के डीए में इजाफा हुआ है.

Madhya Pradesh में शिवराज सरकार का चुनावी कार्ड, महंगाई भत्ते में इजाफा, देखिए कितने प्रतिशत की हुई बढ़ोत्तरी

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के सभी शासकीय कर्मचारियों के लिए एक बड़ी खुशखबरी सामने आई है. शिवराज सरकार (Shivraj Government) ने महंगाई भत्ते (Dearness Allowance) में दिल खोलकर बढ़ोत्तरी की है. दरअसल 7th pay commission के तहत मध्य प्रदेश के कर्मचारियों के डीए में इजाफा हुआ है. इसके बाद सरकारी कर्मचरियों का भत्ता 8% बढ़ाया जाएगा. बता दें प्रदेश के सभी शासकीय सेवकों का महंगाई भत्ता 8% बढ़ाया गया है. सभी शासकीय सेवकों (Government Employees) को ये बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता नवम्बर 2021 में मिलेगा. इसमें अक्तूबर 2021 का भत्ता भी जुड़कर मिलेगा. इस बढ़ोत्तरी के बाद 

 जनसंघ के स्थापना दिवस पर Madhya Pradesh में 'दीपक से खिलेगा कमल', 70 साल पहले कैसे हुआ था गठन, पढ़िए

सरकारी कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी 
अब प्रदेश के अधिकारियों ओर कर्मचारियों को मिलने वाला कुल महंगाई भत्ता 12% से बढ़कर 20% हो जाएगा. बता दें कोरोना काल में राज्य की वित्तीय स्थिति बुरी तरह प्रभावित हुई थी. इसी के चलते शासकीय सेवकों को जुलाई 2020 और जनवरी 2021 में मिलने वाली वेतनवृद्धि पर भी रोक लगी हुई थी. ऐसे में भत्ते में ये बढ़ोत्तरी सरकारी कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी है. राज्य सरकार ने ये निर्णय लिया है कि कोरोना के चलते रुका हुआ वेतनवृद्धि का 50% नवम्बर 2021 में दिया जाएगा और बाकी की  लंबित वेतनवृद्धि की बची हुई 50% राशि मार्च 2022 में भुगतान होने वाले फरवरी 2022 के वेतन के साथ दी जाएगी.

 लंबे समय से DA Hike की हो रही थी मांग
बता दे कि सरकारी कर्मचारी लंबे समय से DA Hike की मांग कर रहे थे. ऐसे में चुनाव से ठीक पहले सरकार के इस फैसले को उनका मास्टर कार्ड कहा जा रहा है. जानकारों का मानना है कि शिवराज सरकार ने उपचुनाव से पहले मास्टर स्ट्रोक खेला है. बता दें केंद्र सरकार ने भी कोरोना की स्थिति को देखते हुए महंगाई भत्ते की वृद्धि को स्थगित कर दिया था. इसी के बाद से कई राज्य सरकारों ने भी महंगाई भत्ते में 5 फीसद की वृद्धि के आदेश को स्थगित कर दिया था, जो आज तक नहीं मिला था.

Watch Live TV

Trending news