बेटे की नशे की आदत छुड़ाने, बाप ने रच डाली दंगे की साजिश, मंदिरों को बनाया निशाना!

आगर मालवा जिले में करीब 6 माह पहले दो मंदिर क्षेत्र में अंडे के छिलके फेंककर साम्प्रदायिक सौहार्द्र बिगाड़ने की साजिश के मामले में एसपी राकेश सगर ने बड़ा खुलासा किया है.

बेटे की नशे की आदत छुड़ाने, बाप ने रच डाली दंगे की साजिश, मंदिरों को बनाया निशाना!

आगर मालवा: आगर मालवा जिले में करीब 6 माह पहले दो मंदिर क्षेत्र में अंडे के छिलके फेंककर साम्प्रदायिक सौहार्द्र बिगाड़ने की साजिश के मामले में एसपी राकेश सगर ने बड़ा खुलासा किया है. अवैध शराब के साथ पकड़ाए आरोपी से पूछताछ में पुलिस को यह सफलता मिली है. दरअसल अपने ही नशेड़ी बेटे व उसके दोस्तों को फंसाने के लिए आरोपी पिता ने ही साजिश को अंजाम दिया था. नशे के आदी अपने लड़के व उसके दोस्तों का पर्ची में नाम लिखकर 10 व 25 मार्च की रात में 2 मंदिरो के क्षेत्रों में अंडों के छिलकों के साथ फेंककर आरोपी ने वारदात को अंजाम दिया था.

छत्तीसगढ़ CGPSC में पति-पत्नी ने टॉपर बनकर रचा इतिहास, ऐसी है सफलता की कहानी

दरअसल आगर मालवा एसपी राकेश सगर ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि साइकिल पर 3 केनों में 58 लीटर कच्ची व 5 लीटर जहरीली शराब ले जाते हुए 17 सितंबर को कोतवाली पुलिस ने एक आरोपी को पकड़ा था. जांच के दौरान आरोपी ने दूसरी बड़ी वारदात को अंजाम देना खुद ही कबूल लिया.

बेटा नशे का आदी इसलिए फेंका अंडा
आगर नगर के पुरासाहब क्षेत्र में रहने वाले 60 वर्षीय आरोपी आशिक अली ने कबूल किया कि उसने ही करीब 6 माह पहले 10 व 25 मार्च को नगर के हनुमान व शंकर मंदिरों में अंडों के छिलकों को फेंका है.
आरोपी के मुताबिक उसका छोटा बेटा इलु शराब, गांजा व स्मेक के नशे का आदी है और आए दिन नशे के लिए रुपयों की मांग करता था. रूपए नहीं देने पर आए दिन गली गलौच व झगड़ा करता था. जिसके कारण उसका पूरा परिवार उससे व उसके नशेड़ी दोस्तो से परेशान था. आरोपी ने सोचा की यदि वह किसी हिन्दू मंदिर में उसका नाम लिखकर अंडे फेंक दूं तो नशेड़ी बेटा और उसके दोस्त जेल चले जाएंगे.

अपने हिंदू साथी की मदद ली
अपने बेटे व उसके साथियों को जेल भेजने के चक्कर मे आरोपी ने योजनाबद्ध तरीके से वारदात को अंजाम दिया. अनपढ़ होने के कारण आशिक अली ने अपने साथी राधेश्याम मालवीय की मदद ली. आरोपी आशिक अली ने राधेश्याम से पर्ची में अपने बेटे इलु व उसके साथियों के नाम लिखकर उसमे उल्टी सीधी गालियां व अन्य बातें लिखवाई और वह चिट्ठी अंडे के छिलकों के साथ घटनास्थल पर रख दी.

नर्सिंग कॉलेजों को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत, हाईकोर्ट के इस आदेश पर लगाई रोक

पुलिस ने दर्ज किया केस
कोतवाली पुलिस ने धारा 295 व 295 क सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज कर लिया है. मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी राकेश सगर ने 10 हजार रुपयों के इनाम की भी घोषणा की थी.

WATCH LIVE TV