छत्तीसगढ़: आज से होनी थी शराब की Home delivery, इतना ऑर्डर हुए कि वेबसाइट हो गई क्रैश

कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए पूरे प्रदेश में शराब की दुकानों को 8 अप्रैल से ही बंद किया गया है.

छत्तीसगढ़: आज से होनी थी शराब की Home delivery, इतना ऑर्डर हुए कि वेबसाइट हो गई क्रैश

सत्यप्रकाश/रायपुर: कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन लगाया गया है. जिसकी वजह से शराब की दुकानें भी यहां बंद हैं. ऐसे में शराब पीने वालों को दिक्कत न हो इसलिए प्रदेश में आज से इसकी ऑनलाइन डिलीवरी की जानी थी. लेकिन पहले ही दिन इतने ऑर्डर हुए कि वेबसाइट ही क्रैश हो गई है. जिसकी वजह से लोग ऑनलाइन डिलीवरी के लिए रजिस्ट्रेशन नहीं कर पा रहे हैं.

8 अप्रैल से बंद हैं शराब की दुकानें
कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए पूरे प्रदेश में शराब की दुकानों को 8 अप्रैल से ही बंद किया गया है. जिसकी वजह से शराब के ठेकेदारों को घाटा हो रहा है. यही कारण है कि सरकार की तरफ से शराब के ऑनलाइन डिलीवरी की व्यवस्था की गई है.

पिछले वर्ष भी की गई थी ऑनलाइन डिलीवरी
कोरोना संक्रमण की पहली लहर यानि कि 2020 में भी छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन लगाया गया था. जिसकी वजह से यहां पर पिछले वर्ष भी सरकार की तरफ से ऑनलाइन शराब डिलीवरी की व्यवस्था की गई थी.

होम डिलीवरी पर गरमाई है प्रदेश की सियासत
शराब की होम डिलिवरी कराने को लेकर पूर्व मुख्‍यमंत्री रमन सिंह (Raman singh) ने छत्‍तीसगढ़ सरकार पर निशाना साधा है. उन्‍होंने ट्वीट कर कहा है, 'कोरोना संकट में यह देश की पहली सरकार है जो शराब की होम डिलीवरी करेगी. आपके घर राशन, दवाई और वैक्सीन पहुंचे या नहीं लेकिन यह शराब जरूर पहुंचाएंगे. सोचिए! अस्पतालों में मरीज दम तोड़ रहे हैं लेकिन इस सरकार को बस शराबियों की चिंता है.'

ऐसे कर सकेंगे बुकिंग
शराब की होम डिलिवरी की बुकिंग करने के लिए बाकायदा एक ऐप भी बनाया गया है. csmcl नाम के इस ऐप से शराब बुक की जा सकेगी, इसके लिए ग्राहकों को अपना मोबाइल नंबर, आधार कार्ड, पूरा पता ऐप पर रजिस्टर करना होगा.  ऑनलाइन शराब ऑर्डर करने के दौरान शराब का नाम और उसका रेट ऐप पर दिखेगा. इस सेवा के तहत शराब की दुकान से 15 किलोमीटर की रेंज के भीतर शराब मंगाई जा सकेगी. हालांकि इसके लिए उपभोक्‍ता को पहले ऑनलाइन पेमेंट करना होगा और 100 रुपए तक डिलीवरी चार्ज देना होगा. 

WATCH LIVE TV