close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सिंधिया के बयान पर शिवराज ने CM कमलनाथ को घेरा, बोले- 'आपके ही लोग आपको आईना दिखा रहे हैं'

शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने वर्तमान सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, 'अब मुख्यमंत्री कमलनाथ को उनके ही लोग आईना दिखा रहे हैं, लेकिन इसके बाद भी सरकार पर इसका कोई भी प्रभाव पड़ता हुआ दिखाई नहीं दे रहा है.'

सिंधिया के बयान पर शिवराज ने CM कमलनाथ को घेरा, बोले- 'आपके ही लोग आपको आईना दिखा रहे हैं'
पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (फोटो साभारः twitter/@ChouhanShivraj)

भोपालः कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के कर्जमाफी वाले बयान ने भाजपा को कांग्रेस पर हमला करने का एक और मौका दे दिया है. सिंधिया के बयान के बाद अब भाजपा ने कांग्रेस और मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) को घेरना शुरू कर दिया है. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सिंधिया के बयान को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ पर तंज कसा है. शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने वर्तमान सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, अब मुख्यमंत्री कमलनाथ को उनके ही लोग आईना दिखा रहे हैं, लेकिन इसके बाद भी सरकार पर इसका कोई भी प्रभाव पड़ता हुआ दिखाई नहीं दे रहा है.

शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, 'न शिवराज और न जनता, अब तो आप के ही लोग आपको आईना दिखा रहे हैं और बता रहे हैं, कि कर्ज़माफी नहीं हुई कमलनाथ जी ! क्या अब भी आपकी सरकार नहीं जागेगी? किसानों की आंखों के आंसू सूख गए, लेकिन उनके बैंक खातों में पैसे नहीं आए ! लाज-शर्म बची हो तो कर्जमाफी पर जल्द से जल्द फैसला लीजिए!'

देखें LIVE TV

आपको बता दें कि इससे पहले शिवराज सरकार में मंत्री रहे नरोत्तम मिश्रा भी ज्योतिरादित्य सिंधिया के बयान के आधार पर वर्तमान सरकार पर निशाना साध चुके हैं. उन्होंने कहा कि जो लोग मेरे घर और शिवराज जी के घर कर्ज माफी की फाइलों का गठ्ठा अपने सिर पर रखकर लाए थे. मैं उनसे पूछना चाहता हुं क्या वो लोग अब सिंधिया जी के घर जाएंगे कर्ज माफी के सबूत लेकर.

..तो क्या सिंधिया को रास नहीं आ रही कांग्रेस? कर्जमाफी पर कमलनाथ सरकार पर तीखा प्रहार

दरअसल, भिंड के अटेर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी ही सरकार को घेरा था. सिंधिया ने किसान ऋण माफी पर अपनी ही सरकार को कटघरे में खड़े करते हुए कहा कि, किसानों का जो कर्ज माफ हुआ है वो 50 हजार तक ही हुआ है, जबकि 2 लाख तक कर्जमाफी का वादा किया गया था. इसलिए किसानों का कर्ज 2 लाख रुपये तक माफ होना चाहिए.