close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेश में छाए हल्के बादल, लोगों को मिली गर्मी से राहत

राज्य में गुरुवार की सुबह आसमान पर छाए हल्के बादलों की मौजूदगी गर्मी से राहत दे रही है. साथ ही गर्म हवाओं का असर कम है, जिससे बीते दिनों के मुकाबले गुरुवार को गर्मी से राहत है. बादल और सूरज के बीच लुका छिपी का दौर चलने से धूप की चुभन कम है.

मध्य प्रदेश में छाए हल्के बादल, लोगों को मिली गर्मी से राहत
गुरुवार की सुबह आसमान पर छाए हल्के बादलों की मौजूदगी गर्मी से राहत दे रही है. (सांकेतिक तस्वीर)
Play

भोपालः मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल सहित राज्य के अन्य हिस्सों में गुरुवार को हल्के बादलों की मौजूदगी से गर्मी से राहत है. राज्य में गुरुवार की सुबह आसमान पर छाए हल्के बादलों की मौजूदगी गर्मी से राहत दे रही है. साथ ही गर्म हवाओं का असर कम है, जिससे बीते दिनों के मुकाबले गुरुवार को गर्मी से राहत है. बादल और सूरज के बीच लुका छिपी का दौर चलने से धूप की चुभन कम है. बीते 24 घंटों के दौरान राज्य में गर्मी और लू के प्रभाव ने जनजीवन को बुरी तरह प्रभावित किया. राज्य में नौगांव सबसे गर्म रहा जहां तापमान 46.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. 

राज्य के तापमान में लगातार बढ़ोत्तरी का दौर जारी है. गुरुवार को भोपाल का न्यूनतम तापमान 30.4 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 28 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 26.4 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का न्यूनतम तापमान 29.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं, बुधवार को भोपाल का अधिकतम तापमान 44.2 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 42.4 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 45.8 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का अधिकतम तापमान 43.8 डिग्री सेल्सियस रहा .

देखें लाइव टीवी

देश के इस हिस्से में आसमान उगल रहा 'आग', सड़क पर चलते वक्त लग रही तंदूर जैसी तपिश

बता दें नौतपा के चलते इन दिनों प्रदेश में हर दिन तापमान में वृद्धि होती जा रही है. आलम यह है कि सुबह 9 बजे से ही तेज लू चलने लगती है. जिससे लोग घरों में दुबक कर बैठ गए हैं और बाहर निकलने से भी डर रहे हैं. जो लोग घरों से निकल भी रहे हैं वह अपने सर को ढककर निकल रहे हैं. इसके साथ ही लोग अधिक से अधिक तरल पदार्थों का सेवन भी कर रहे हैं ताकि गर्मी से बचा जा सके. प्रदेश के चार महानगरों समेत 10 शहरों में पारा 45 या उससे ज्यादा रिकॉर्ड किया गया. (इनपुटः आईएएनएस)