क्रिकेट, सट्टा और किडनैप: तीन साल पहले हारा 30 हजार रुपये, सटोरियों को नहीं दिए तो किया अगवा

तीन साल पहले क्रिकेट सट्टे में 30 हजार रुपए हारने के एवज में सटोरियों ने अपने तीन साथियों के साथ ही मिलकर एक युवक का अपहरण कर लिया. 

क्रिकेट, सट्टा और किडनैप:  तीन साल पहले हारा 30 हजार रुपये, सटोरियों को नहीं दिए तो किया अगवा
सांकेतिक तस्वीर

जबलपुर: माढ़ोताल थाना क्षेत्र में अपहरण का सनसनीखेज मामला सामने आया है. जहां तीन साल पहले क्रिकेट सट्टे में 30 हजार रुपए हारने के एवज में सटोरियों ने अपने तीन साथियों के साथ ही मिलकर एक युवक का अपहरण कर लिया. जैसे ही परिजनों की शिकायत पर पुलिस के एक्टिव होने की सूचना मिली. वैसे ही अपहरण करने वाले आरोपी युवक को मेडिकल कॉलेज के पास छोड़कर भाग गए. पुलिस ने अपहरण, मारपीट व धमकी देने का मामला दर्ज कर आरोपियों को पकड़ने तलाश शुरू कर दी है. 

वन विभाग की भूमि कब्जाई, प्रधान पति ने शिकायत की तो ट्रैक्टर से कुचलकर मार डाला, बीजेपी विधायक ने खोला मोर्चा

सट्टे में हार गया 30 हजार
दरअसल शहर के आधारताल का रहने वाला सचिन गुप्ता एक प्राइवेट कंपनी में टीम लीडर का काम करता है. वह तीन साल पहले भरतीपुर निवासी दीपू सोनकर से आईपीएल सट्टे में 30 हजार रुपए हार गया था. जिसे वह थोड़ा-थोड़ा करके चुकता कर चुका था. उसके बाबजूद राशि मे हेरफेर कर दीपू द्वारा दो लाख रुपए ब्याज की मांग की जा रही थी. 

किडनैप किया, धमकी दी
लेकिन जब उसने गैर वाजिब ब्याज की राशि का विरोध किया तो अचानक उसके ऑफिस के सामने से उसे चार पहिया गाड़ी के जरिये किडनैप कर लिया गया. जहां तिलवारा घाट के पास खेत में ले जाकर दीपू व उसके साथियों ने सचिन के साथ जमकर मारपीट कर उसे बंधक बना लिया, औऱ उसे धमकी दी कि वह अपने पिता से दो लाख रुपए मंगवाएं, नहीं तो उसे मौत के घाट उतार दिया जाएगा. 

सुबह उठकर करें ये 5 काम, बदल जाएगा आपका जीवन

पुलिस के डर से छोड़ गए 
दिन दहाड़े हुए इस अपहरण की इस खबर से हड़कंप मच गया. वहीं तब तक सचिन के परिजन पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करा चुके थे. बहराल अपहरण की सूचना पर पुलिस एक्टिव मोड़ में आई और मुखबिर तंत्र को मजबूत कर आरोपियों को पकड़ने प्रयास शुरू किए. जिनकी भनक अपहरणकर्ताओ को लग गयी औऱ वह पुलिस के डर से उसे मेडिकल कॉलेज के पास छोड़ कर भाग गए. जिसके चलते अपहृत की जान बच सकी. 

फिलहाल पुलिस को जानकारी मिली है कि सभी आरोपी आईपीएल सट्टे का काला काराबोर करते है,औऱ उनके पूर्व में भी आपराधिक रिकॉर्ड है. ऐसे में पुलिस अब सभी आरोपियों को पकड़ने गर्मजोशी के साथ उनकी तलाश में जुट गई है.

WATCH LIVE TV