पुलिस की हैवानियत का VIDEO: पहले कोरोना मरीज के परिजनों पर लाठी-डंडे बरसाए, फिर केस दर्ज किया, कमलनाथ ने की ये मांग

मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद इस घटना पर सियासत भी तेज हो गई है...

पुलिस की हैवानियत का VIDEO: पहले कोरोना मरीज के परिजनों पर लाठी-डंडे बरसाए, फिर केस दर्ज किया, कमलनाथ ने की ये मांग
फाइल फोटो.
Play

खंडवा: खंडवा के छैगांवमाखन थाना क्षेत्र के ग्राम बंजारी में पुलिस की बर्बरता का मामला सामने आया है. जहां पुलिस कर्मियों ने एक कोरोना पॉजिटिव मरीज के परिजनों के साथ मारपीट की है. इस घटना का वीडियो भी वायरल हुआ है. जिसमें साफ देखा जा रहा है कि पुलिसकर्मी महिलाओं को भी पाइप और लठ से पीटते हुए नजर आए हैं. वीडियो वायरल होने के बाद इस घटना को विधायक राम दांगोरे ने मारपीट करने वाले पुलिसकर्मियों को निलंबित करने की मांग की है.

मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद इस घटना पर सियासत भी तेज हो गई है. मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कलनाथ ने इस घटना की कड़े शब्दो में निंदा की. उन्होंने एक ट्वीट में लिखा कि 'एक कोविड पॉजिटिव मरीज के परिजनों की किस तरह पुलिस द्वारा बर्बर तरीके से पिटाई की जा रही है, महिलाओं पर भी लाठियां बरसायीं जा रही हैं? शिवराज जी, यह अमानवीयता है, बर्बरता है, बहन-बेटियों-बुजुर्गों पर इस तरह से लाठियां ? इसके पहले इंदौर में भी इस तरह के दृश्य हमने देखे हैं ? इसके दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई हो. इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोकने के लिये सरकार दिशा- निर्देश जारी करे.'

पूर्व सीएम कमलनाथ के अलावा कांग्रेस नेता नरेंद्र सलूजा ने भी पुलिस की कार्रवाई पर सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने कहा कि बुजुर्गों और महिलाओं को पीटा जा रहा है. इसलिए दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाए. उन्होंने पूछा कि क्या कारण है कि खाकी का ऐसा चेहरा सामने आ रहा है?. बताया जा रहा है कि खंडवा पुलिस अधीक्षक ने मारपीट करने वाले  दोनों पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने के साथ ही लाइन अटैच कर दिया है. 

क्या है पूरा मामला
बीते 8 अप्रैल को बंजारी गांव में एक युवक कोरोना पॉजिटिव पाया गया था. वह होम आइसोलेशन में था. आज 2 बजकर 30 मिनट पर उसका चेकअप करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम उसके घर पहुंची. टीम में डॉक्टर पूर्वा कुशवाहा और एएनएम सुनीता सूर्यवंशी और एक पुलिसकर्मी भी शामिल था. टीम ने मरीज का चेकअप करने के साथ ही घर के बाहर होम आइसोलेशन संबंध पर्चा भी चिपकाना चाहा, इसी बात को लेकर विवाद शुरू हुआ. 

मरीज के परिजनों ने डॉक्टरों से की मारपीट
विवाद के दौरान युवक के परिजनों ने स्वास्थ्य कार्यकर्ता और डॉक्टर के साथ मारपीट की थी. जब पुलिस को इसकी सूचना दी गई तो पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और कोरोना मरीज के परिजनों पर लाठी-डंडे बरसा दिए. इस पूरी घटना का वीडियो बनाकर किसी ने वायरल कर दिया. वहीं घायल स्वास्थ्यकर्मियों की शिकायत पर पुलिस ने परिजनों के सिखाफ केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है.

ये भी पढ़ें: कोरोना कहर: सरकार का बड़ा फैसला, 25 फीसदी स्टाफ से ही काम करेंगे सरकारी ऑफिस, इन कर्मचारियों को नहीं मिलेगी छूट

ये भी पढ़ें: मासूम चेहरे पर ना जाएं, इस ढाई फीट के तस्कर के कारनामे जानेंगे तो रह जाएंगे हैरान, पुलिस की गोद में पहुंचा कोर्ट

WATCH LIVE TV