यहां महुआ से शराब नहीं, बनता है स्वादिष्ट हलवा, लाखों में होती है कमाई

महिलाओं के महुआ से बने प्रोडक्ट को इतना पसंद किया जा रहा है कि हफ्तेभर में ही इन्होंने करीब 2 लाख रुपए का करोबार कर लिया है. 

यहां महुआ से शराब नहीं, बनता है स्वादिष्ट हलवा, लाखों में होती है कमाई
सांकेतिक तस्वीर

बस्तर: छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले में महुआ का फल बहुतायत में पाया जाता है. बस्तर में अब तक महुआ के फल से शराब बनाई जाती थी, लेकिन अब इसकी पहचान बदल रही है. यहां महुआ से अब स्वादिष्ट हलवा, चंक्स, कुकीज, जैम बन रहा है. यह बदलाव लाया है दंतेवाड़ा की संगवारी समूह की करीब 30 महिलाओं ने. इतना ही नहीं इस महुआ प्रोसेसिंग हब में महिलाएं महुआ से गुड़ मसाला, काजू मसाला, महुआ काढ़ा और इमली सॉस भी बना रही है.  खास बात यह है कि देशभर में इन उत्पादों की सप्लाई शुरू करने के साथ आने वाले समय में 100 महिलाओं को रोजगार भी देने की तैयारी है.

''पकड़'' भाग निकली सोते रहे किडनैपर, कैसे बच निकले झांसी के डॉक्टर, जानिए पूरी कहानी

मुख्यमंत्री भी चखेंगे महुआ का हलवा 
महिलाओं के महुआ से बने प्रोडक्ट को इतना पसंद किया जा रहा है कि हफ्तेभर में ही इन्होंने करीब 2 लाख रुपए का करोबार कर लिया है. खास बात यह है कि अब प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी इस हलवा का स्वाद लेने वाले हैं. मुख्यमंत्री 31 जनवरी को दंतेवाड़ा जिले के दौरे पर जा रहे हैं. इस दौरान वह वह महिलाओं के महुआ से बनाए गए व्यंजनों को चखेंगे. 

कमाई से करवाउंगी इलाज
वहीं महुआ को पहचान देने वाली संगवारी समूह की सदस्यों ने स्थानीय अखबार से बात करते हुए कहा कि इस कमाई से अब उनकी परेशानियां दूर होने वाली है. एक महिला सदस्य लक्ष्मी ने बताया कि मुझे खुद और बच्चों को सिकलिन, पथरी की समस्या है. मेरे पति ड्राइवर हैं. जिससे इतनी कमाई नहीं हो पाती थी सबका इलाज करवा पाउ. लेकिन अब हमारे पास पैसा आने लगा है. मुझे यहां काम करते हुए अच्छा भी लग रहा है. इसलिए अब घर की सभी परेशानियों को दूर करूंगी. लक्ष्मी की तरह अन्य महिलाओं ने भी इसी तरह की बात की. 

बदलेगी गरीब परिवारों की आर्थिक स्थिति
वहीं समूह कि महिला हलवा तैयार कर रहीं कुंती बैरागी, सविता शर्मा, प्रियंका जायसवाल, मंगलदेई दीवान, नंदिनी, शर्मिला भी कहती है कि उन्होंने कभी सोचा नहीं था कि महुआ से इतने सारे खाद्य पदार्थ भी तैयार हो सकते है. महिलाओं ने बताया कि एनएमडीसी सहित अन्य जगहों से हमारे प्रोडक्ट की डिमांड भी आई है. खास बात यह है कि इस काम से हो रही अच्छी कमाई की वजह से महिलाओं आर्थिक स्थिति भी बदल रही है.

महुआ के हलवा से नहीं होगा नशा 
खास बात यह है कि लोगों यह भी लगा कही महुए के हलवे से नशा तो नहीं होगा. लोग हलवे के बारे में इस तरह के सवाल करते नजर आए ? तो हम सभी को ये बताना चाहेंगे कि महुआ के बने इन खाद्य पदार्थों से किसी तरह का नशा नहीं होता है. ये खाने में बेहद स्वादिष्ट होते है.

JOB: 10वीं पास के लिए रेलवे में निकलीं नौकरियां, अप्रेंटिस के 561 पदों के लिए करें अप्लाई

देशभर में बाजार दिलाया जाएगा
दंतेवाड़ा के कलेक्टर दीपक सोनी ने बताया कि इन महिलाओं को विहान बाजार में दुकानें देने का प्लान चल रहा है. ट्राइफेड सहित अन्य संस्थानों के जरिये महुआ से बनें उत्पादों को देशभर में बाज़ार भी दिलाया जाएगा

WATCH LIVE TV