मोबाइल को 100% चार्ज करना हो सकता है खतरनाक, जानिए क्या है इसकी वजह?

हम लोग अक्सर दिन भर फोन का इस्तेमाल करते हैं और रात को सोते समय उसे चार्जिंग पर लगा देते हैं. लेकिन यह गलत आदत है.

मोबाइल को 100% चार्ज करना हो सकता है खतरनाक, जानिए क्या है इसकी वजह?
फाइल फोटो

नई दिल्लीः मोबाइल फोन आज हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा बन गया है. ऐसे में इसका इस्तेमाल भी काफी बढ़ गया है. हालांकि फोन को 100% चार्ज करना नुकसानदायक साबित हो सकता है. आज हम आपको मोबाइल की चार्जिंग से जुड़ी कुछ ऐसी बातें बता रहे हैं, जो आपको नुकसान से बचा सकती हैं. तो आइए जानते हैं- 

जानिए क्यों नहीं करना चाहिए मोबाइल फुल चार्ज
मोबाइल को 100% चार्ज करना फोन की बैटरी के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है. दरअसल मोबाइल की बैटरी लीथियम आयन की बनी होती है. लीथियम की बैटरी उस वक्त बेहतर काम करती है, जब उसकी चार्जिंग 30-50 फीसदी होती है. अगर आप हमेशा उसे 100 प्रतिशत चार्ज करेंगे तो इससे आपके फोन की बैटरी खराब हो सकती है. 

पूरी रात चार्ज ना करें अपना फोन
हम लोग अक्सर दिन भर फोन का इस्तेमाल करते हैं और रात को सोते समय उसे चार्जिंग पर लगा देते हैं. लेकिन यह गलत आदत है. दरअसल रात को चार्जिंग पर लगाकर फोन 100 प्रतिशत चार्ज होता है, जो कि नुकसानदायक है. साथ ही रात में चार्जिंग से यह 100 प्रतिशत से भी ज्यादा चार्ज होता है. इससे फोन की बैटरी बहुत जल्दी खराब हो सकती है. इतना ही नहीं खराब क्वालिटी की बैटरी तो कभी कभी पूरी रात चार्जिंग से फट भी सकती है. 

बेड पर रखकर चार्ज ना करें फोन
फोन को बेड पर रखकर भी चार्ज नहीं करना चाहिए. इसकी वजह ये है कि चार्जिंग के दौरान फोन गर्म हो जाता है. ऐसे में अगर उसे बेड पर रखकर चार्ज किया जाएगा तो कई बार इससे आग भी लग सकती है. दरअसल चार्जर की कोर्ड सही नहीं है और उसमें थोड़ा भी स्पार्क हुआ तो यह भयानक हादसे में बदल सकता है. 

फोन की बैटरी को 30 प्रतिशत से कम डिस्चार्ज ना होने दें
फोन को पूरी तरह डिस्चार्ज होने पर चार्ज करना सही नहीं है. जब आपके फोन की बैटरी 30 प्रतिशत से नीचे जाती है तो तभी उसे चार्जिंग पर लगा लेना चाहिए. 

चार्जिंग के दौरान ना करें फोन का इस्तेमाल
अक्सर लोग फोन को चार्जिंग पर लगाकर इस्तेमाल करते हैं. लेकिन यह गलत आदत है. दरअसल चार्जिंग के दौरान फोन को इस्तेमाल नहीं करने से यह जल्दी चार्ज होता है और अगर आप इसे इस्तेमाल करते रहेंगे तो यह चार्जिंग में समय लेगा, जो फोन की बैटरी के लिए नुकसानदायक होता है.