close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VHP नेता हत्या मामले में पुलिस ने की संदिग्धों की पहचान, सामने आई गोली मारने की वजह

सूत्रों के आधार पर प्राथमिक तौर पर जो जानकारी सामने आ रही है, उसमें मुख्य संदिग्ध छोटू उर्फ  फैजान, अंकित और नागेश गोस्वामी का नाम सामने आ रहा है.

VHP नेता हत्या मामले में पुलिस ने की संदिग्धों की पहचान, सामने आई गोली मारने की वजह
इस मामले को 2 साल पहले मछली कारोबार से जुड़े सोनू गोस्वामी की हत्याकांड से भी जोड़कर देखा जा रहा है.

मंदसौर: मध्य प्रदेश के मंदसौर के वीएचपी नेता युवराज सिंह चौहान की हत्या मामले में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर तीन संदिग्धों की पहचान की है. पुलिस द्वारा इन लोगों को पकड़ने के प्रयास किए जा रहे हैं. फिलहाल लगभग 15 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है. हिरासत में लिए गए  लोगों के जरिये मुख्य संदिग्ध आरोपियों तक पहुंचने का प्रयास कर रहे हैं.

सूत्रों के आधार पर प्राथमिक तौर पर जो जानकारी सामने आ रही है, उसमें मुख्य संदिग्ध छोटू उर्फ  फैजान, अंकित और नागेश गोस्वामी का नाम सामने आ रहा है. इस मामले में पुलिस दीपक नामक शख्स को भी तलाश रहीं है. इस मामले को 2 साल पहले मछली कारोबार से जुड़े सोनू गोस्वामी की हत्याकांड से भी जोड़कर देखा जा रहा है. युवराज सिंह चौहान ने 2 महीने पहले गाडगिल सागर का मछली ठेका भी लिया था. इसमें केबल व्यवसाय से जुड़ी प्रतिद्वंदता की बात भी सामने आई है. 

इसमें इंदौर के केबल व्यवसाई संदीप तेल मामले के पहलू की भी बात सामने आई है. कहानी पुलिस के खुलासे के बाद ही स्पष्ट हो पाएगी. फिलहाल पुलिस इस मामले में कुछ भी स्पष्ट तौर पर नहीं बता रही है, ताकि जांच प्रभावित ना हो. युवराज सिंह चौहान का गुरुवार को अंतिम संस्कार किया गया.