शिरडी के प्रसादालय का नया कीर्तिमान, 2019 में इतने करोड़ लोगों ने यहां किया भोजन

साईं भक्तों की ओर से दिए जाने वाले दान यह प्रसादालय चलाया जाता है. यहां भक्तों के लिए मुफ्त भोजन की व्यवस्था है. यहां वीआईपी भोजन लेने वाले श्रद्धालूओं से 50 रुपए का शुल्क लिया जाता है. हर दिन लोग भोजन करते हैं उन्हें दो तरह की सब्जी, रोटी, दाल-चावल परोसा जाता है. प्रतिदिन सुबह 10 से रात 10 बजे तक प्रसादालय खुला रहता है. 

शिरडी के प्रसादालय का नया कीर्तिमान, 2019 में इतने करोड़ लोगों ने यहां किया भोजन
शिरडी के प्रसादालय में हर रोज सैंकड़ों भक्त भोजन करते हैं.

प्रशांत शर्मा, शिरडी: इस साल शिरडी के साईं बाबा मंदिर के प्रसादालय में 1 करोड 63 लाख लोगों ने भोजन ग्रहण किया. 2019 में यह संख्या पिछले साल से 9 लाख ज्यादा है. मंदिर में सोमवार को एक बंदर ने भी भोजन का स्वाद लिया. शिरडी में प्रतिदिन 60 हजार श्रद्धालू आते हैं. शिरडी की फ्लोटिंग पॉपुलेशन यह प्रतिदिन एक लाख के ऊपर है. साईंबाबा के दर्शन के लिए आने वाले भक्त और शिरडी में रोजी रोटी के लिए आए लोग साईं प्रसादालय में भोजन करते हैं. शिरडी साई संस्थान प्रसादालय में एक बार में 5 हजार भक्त भोजन करते हैं. भक्तों के बैठने के लिए पहली मंजिल पर अलग व्यवस्था की गई है. 

साईं भक्तों की ओर से दिए जाने वाले दान यह प्रसादालय चलाया जाता है. यहां भक्तों के लिए मुफ्त भोजन की व्यवस्था है. यहां वीआईपी भोजन लेने वाले श्रद्धालूओं से 50 रुपए का शुल्क लिया जाता है. हर दिन लोग भोजन करते हैं उन्हें दो तरह की सब्जी, रोटी, दाल-चावल परोसा जाता है. प्रतिदिन सुबह 10 से रात 10 बजे तक प्रसादालय खुला रहता है. 

सुबह का ब्रेक फास्ट 5 रुपए में दिया जाता है. इस साल 37 लाख 68 हजार 543 ब्रेक फास्ट के पैकेट भक्तों ने लिए. इससे 1 करोड़ 88 लाख 42 हजार 715 रुपए मिले हैं. 1 करोड़ 63 लाख लोगों ने भोजन का लाभ लिया है.

साईं बाबा संस्थान के प्रसादालय के लिए सौर उर्जा का इस्तेमाल होता है, जिससे कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन नहीं होता है. एक साल में प्रसादालय को 8 करोड़ रुपए का दान मिलता है, जिसमें 5 करोड़ वीआईपी टिकट से आते हैं. एक भोजन की थाली के लिए लगभग 25 रुपए खर्च आता है. इस प्रसादालय का सालाना टर्नओवर 33 करोड़ रुपए है.

ये भी देखें-: