close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ममता बनर्जी में देश की अगुवाई करने की हर काबिलियत है: कुमारस्वामी

खास बातचीत में कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने कहा, “मेरे अनुसार चुनाव जीतने का पैमाना नेतृत्व पर निर्णय लेना नहीं है. देश के लोग नरेंद्र मोदी के प्रशासन से पूरी तरह निराश हैं.

ममता बनर्जी में देश की अगुवाई करने की हर काबिलियत है: कुमारस्वामी
फाइल फोटो

कोलकाताः कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने देश के लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रशासन से पूरी तरह “निराश” बताते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तारीफ की है. ममता को “कुशल प्रशासक” करार देते हुए कुमारस्वामी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख में देश की अगुवाई करने की हर काबिलियत है.  हालांकि, जनता दल सेक्यूलर (जेडीएस) के नेता कुमारस्वामी ने यह भी कहा कि नेतृत्व अहम मुद्दा नहीं है और विपक्ष को चुनाव जीतने के लिए विचारों एवं तौर-तरीकों पर ध्यान देने की जरूरत है. 

नदिया के बेटे ने ऑस्ट्रेलिया में किया भारत का नाम रोशन, बना फेमस कॉर्टूनिस्ट

खास बातचीत में कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने कहा, “मेरे अनुसार चुनाव जीतने का पैमाना नेतृत्व पर निर्णय लेना नहीं है. देश के लोग नरेंद्र मोदी के प्रशासन से पूरी तरह निराश हैं. कई राज्यों की अपनी समस्याएं हैं. चुनाव से पहले किसी नेता को चुनना जरूरी नहीं है.” उन्होंने कहा, “कुछ प्रभावशाली नेता हैं जो देश के विकास को ऊंचाइयों पर ले जा सकते हैं. वे उन मोर्चों पर सफल हो सकते हैं जहां पूर्ववर्ती सरकारें विफल हुई हैं. लेकिन हम लोग चुनाव संपन्न होने के बाद बैठकर अपना नेता चुन सकते हैं.” पिछले दिनों ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस द्वारा आयोजित संयुक्त विपक्ष की रैली में शामिल हुए कुमारस्वामी ने यह भी कहा कि ममता में देश चलाने की काबिलियत है. 

ममता बनर्जी का दावा: लोकसभा चुनाव में बीजेपी नहीं जीत पाएगी 125 से अधिक सीटें

देश की मौजूदा स्थिति को वर्ष 1977, जब तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को विभिन्न धड़ों से विरोध का सामना करना पड़ा था, की तरह बताते हुए कुमारस्वामी ने कहा, “वर्तमान परिदृश्य लगभग उसी समय के समान है. राजनीतिज्ञों को भी साथ बैठकर अपना नेता चुनना पड़ा था. मुझे लगता है इस बार भी हमें ऐसा करने में कोई मुश्किल नहीं आएगी.” जेडीएस नेता ने इस बात पर जोर दिया कि महागठबंधन ‘‘राष्ट्रीय पार्टी का एक विकल्प होगा.”