सीमा विवाद पर पहली बार बोले जयशंकर, कहा- दोनों देशों की सेनाएं पीछे हटने को तैयार

विदेश मंत्री ने कहा कि सेनाओं के पीछे हटने और तनाव कम करने की प्रक्रिया पर सहमति बनी है.

सीमा विवाद पर पहली बार बोले जयशंकर, कहा- दोनों देशों की सेनाएं पीछे हटने को तैयार
विदेश मंत्री एस. जयशंकर | फाइल फोटो
Play

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में सीमा पर पिछले कुछ सप्ताह से जारी तनाव को कम करने के प्रयासों के बीच विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने शनिवार को कहा कि दोनों देशों के बीच सैनिकों के पीछे हटने और तनाव कम करने की प्रक्रिया को लेकर सहमति बनी है और ‘काम काफी हद तक प्रगति पर है.’

जयशंकर ने इंडिया ग्लोबल वीक में एक वीडियो संवाद में कहा, ‘हमने सैनिकों के पीछे हटने की जरूरत पर सहमति जताई है क्योंकि दोनों पक्षों के सैनिक एक दूसरे के बहुत करीब तैनात हैं इसीलिए पीछे हटने और तनाव कम करने की प्रक्रिया पर सहमति बनी है.’

उन्होंने कहा, ‘यह अभी शुरू हुई है, काम काफी हद तक प्रगति पर है. इस समय मैं इससे ज्यादा कुछ नहीं कहना चाहूंगा.’

ये भी पढ़ें- लद्दाख में IAF का सबसे दमदार हेलीकॉप्‍टर रुद्र तैनात, चीन के Z-19 को मात देने में सक्षम

एक दिन पहले ही भारत और चीन ने एक और दौर की कूटनीतिक वार्ता की जिसमें दोनों पक्षों ने समयबद्ध तरीके से पूर्वी लद्दाख में सैनिकों के पूरी तरह पीछे हटने की दिशा में आगे बढ़ने का संकल्प लिया ताकि पूर्ण शांति बहाल हो सके.

बैठक में तय किया गया कि दोनों सेनाओं के वरिष्ठ कमांडर जल्द बैठक करेंगे और सैनिकों के पूरी तरह पीछे हटने और तनाव कम करने की प्रक्रिया सुनिश्चित करने के लिए आगे कदम उठाएंगे.