कोरोना संकट काल में प्रवासियों का सहारा बनी मोदी सरकार, ऐसे पहुंचा रही बड़ी राहत

केंद्र सरकार प्रवासी मजदूरों और जरूरतमंदों को उनके घर पहुंचाने से लेकर मुफ्त राशन भी बांट रही है. 

कोरोना संकट काल में प्रवासियों का सहारा बनी मोदी सरकार, ऐसे पहुंचा रही बड़ी राहत
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) संकट काल में मोदी सरकार प्रवासियों का सहारा बनी है. केंद्र सरकार लॉकडाउन के चलते देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने से लेकर मुफ्त राशन भी उपलब्ध करा रही है. बीजेपी के अनुसार, संकट की घड़ी में मोदी सरकार 8 करोड़ प्रवासियों को 8 लाख मीट्रिक टन खाद्यान्न का वितरण कर रही है.

भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने एक ट्वीट में लिखा- मोदी सरकार 1.96 करोड़ प्रवासी परिवारों को 39,000 मीट्रिक टन दालों की भी आपूर्ति कर रही है. इसके अलावा प्रति व्यक्ति 5 किलो खाद्यान्न और प्रति परिवार 1 किलो दाल का फ्री में वितरण किया जा रहा है. बीजेपी का कहना है कि ये लाभार्थी राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम या राज्य योजना पीडीएस कार्ड के दायरे में नहीं आते हैं.

ये भी पढ़ें: हिंद महासागर में चीन को घेरने के लिए भारत ने बनाई खास रणनीति, ड्रैगन को ऐसे देगा मात

 

 हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए कहा था कि छठ महापर्व में किसी गरीब को अनाज की कमी नहीं होगी. इसके लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का लाभ नवंबर तक मिलेगा. आपको बता दें कि इस योजना के तहत 80 करोड़ गरीबों को प्रतिमाह मुफ्त 5 किलो गेहूं या चावल और 1 किलो चना मिलता है.