सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

आखिर सचिन पायलट या फिर ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेताओं में क्या कमी है?

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Jul 14, 2020, 00:22 AM IST

नई दिल्ली: कल जब से राजस्थान के उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट की खुली नाराजगी की खबरें आईं. ऐसा कहा जाने लगा कि वह भी ज्योतिरादित्य सिंधिया की तरह पार्टी छोड़ देंगे. कांग्रेस भले ही फिलहाल सचिन पायलट को समझा ले जाए, लेकिन कभी न कभी पायलट भी ज्योतिरादित्य सिंधिया के रास्ते पर चलेंगे, जिन्होंने इन्हीं वजहों से चार महीने पहले पार्टी छोड़ दी थी.आखिर सचिन पायलट या फिर ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेताओं में क्या कमी है, क्यों ऐसे नेताओं को एक दायरे में ही रहने के लिए मजबूर कर दिया जाता है? दरअसल इन नेताओं में सिर्फ एक कमी है कि ये नेता गांधी परिवार से नहीं हैं. अगर ये नेता, गांधी परिवार से होते तो फिर ये नेता ही प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर कांग्रेस को चला रहे होते, क्योंकि राहुल गांधी से काबिलियत के मामले में ये नेता कहीं से भी कम नहीं हैं. 

1/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

2/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

3/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

4/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

5/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

6/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

7/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

8/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

9/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

10/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

11/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

12/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi

13/13

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेता क्यों एक दायरे में ही रहने को मजबूर

why sachin pilot and Jyotiraditya Scindia are better leaders than rahul gandhi