आ रहे हैं त्‍योहार, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने Covid-19 को देखते हुए कही ये बड़ी बात

त्योहार आने वाले हैं ऐसे में लापरवाही भारी पड़ सकती है. कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) अभी जारी है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने आगाह किया है कि पांच प्रतिशत से ज्यादा संक्रमण दर वाले जिलों में भीड़भाड़ से बचना होगा.

आ रहे हैं त्‍योहार, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने Covid-19 को देखते हुए कही ये बड़ी बात
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बार आगाह किया कि देश में कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) अब भी जारी है, भले ही रोजाना नए मामलों में कमी आ रही है. ऐसे में लापरवाही भारी पड़ सकती है. आने वाले त्योहारों को देखते हुए लोगों से बेवजह भीड़-भाड़ न करने के लिए कहा गया है वहीं दिव्यांग लोगों की कोरोना (Corona) से सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. 

दिव्यांग लोगों के लिए सरकार का प्लान

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि आगामी त्योहारों के लिए Covid-19 दिशानिर्देशों के तहत कंटेनमेंट जोन और पांच प्रतिशत से ज्यादा संक्रमण दर वाले जिलों में भीड़भाड़ से बचना होगा. सरकार ने गुरुवार को घोषणा की, दिव्यांग लोगों और चलने-फिरने में असमर्थ लोगों को उनके घर पर ही Covid-19 का टीका लगाया जाएगा. 

23 प्रतिशत आबादी का फुल वैक्सीनेशन

साथ ही कोरोना टीकाकरण अभियान (Corona Vaccination Drive) के बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से कहा गया कि देश की करीब 66 फीसदी आबादी को टीके की कम से कम एक खुराक दी गई है और 23 फीसदी आबादी का पूरी तरह टीकाकरण हो गया है. टीकाकरण अभियान में तेजी लाने के लिए ही दिव्यांगों और चलने-फिरने में असमर्थ लोगों को उनके घर पर ही टीका लगाए जाने का फैसला लिया गया है.

यह भी पढ़ें; पाकिस्तान की 'टेरर फैक्ट्री' पर बड़ा खुलासा, PoK में मौजूद 200 से 300 आतंकवादी

केरल के हालात अभी भी खराब

बता दें, पिछले हफ्ते सामने आए संक्रमण के कुल मामलों के 62.73 फीसदी अकेले केरल में दर्ज हुए थे. केरल एकमात्र ऐसा राज्य है जहां इलाज करा रहे मरीजों की संख्या एक लाख से अधिक है. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में 33 जिलों में फिलहाल संक्रमण दर 10 प्रतिशत से ज्यादा है, जबकि 23 जिलों में संक्रमण दर पांच से 10 फीसदी के बीच है.

LIVE TV
 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.