रेफरेंडम की बात करना भारत का अपमान, देश से माफी मांगे ममता बनर्जी: प्रकाश जावड़ेकर

गुरुवार को ममता बनर्जी ने नागरिकता कानून के विरोध में कोलकाता में आयोजित एक रैली में केंद्र को आगाह किया था कि वह इस कानून पर संयुक्त राष्ट्र से जनमत संग्रह कराए.

रेफरेंडम की बात करना भारत का अपमान, देश से माफी मांगे ममता बनर्जी: प्रकाश जावड़ेकर
केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पर हमला बोला और उनके उस बयान की निंदा की जिसमें उन्होंने सीएए पर संयुक्त राष्ट्र से जनमत संग्रह कराने की बात कही थी.

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, "ताज्जुब होता है ममता बनर्जी पर. वह रिफरेंडम की बात कर रही हैं. यह 130 करोड़ जनता और देश का अपमान है. संसद का अपमान है. हम उनके बयान की निंदा करते हैं. उनको देश से माफी मांगनी चाहिए."

गौरतलब है कि गुरुवार को ममता बनर्जी ने नागरिकता कानून (CAA) के विरोध में कोलकाता में आयोजित एक रैली में केंद्र को आगाह किया था कि वह इस कानून पर संयुक्त राष्ट्र से जनमत संग्रह कराए. जावड़ेकर ने इसके साथ ही लोगों से अपील की कि वे सीएए को लेकर गुमराह न हों और हिंसा न करें.

जावड़ेकर ने कहा, "नागरिकता सशोधन कानून पर कुछ लोग जनता को गुमराह कर रहे हैं. विषय एकदम सीधा है. यह पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान से धार्मिक प्रताड़ना झेलकर आए लोगों के लिए है, घुसपैठियों के लिए नहीं है. ऐसा ही कानून 2003 में हुआ था. मनमोहन सिंह के समय यह कानून 2004 और 2005 में भी चालू रहा. यह पहली बार नहीं आया है."