लापरवाही की हद! कमोड में फंसा नवजात का सिर, टॉयलेट में जन्म देने के लिए मजबूर हुई मां
X

लापरवाही की हद! कमोड में फंसा नवजात का सिर, टॉयलेट में जन्म देने के लिए मजबूर हुई मां

Pregnant Woman Delivers Baby In Toilet: पीड़ित महिला के पति ने बताया कि इमरजेंसी वार्ड में एडमिट करने से हॉस्पिटल स्टाफ ने इनकार कर दिया था, जिसकी वजह से बच्चे की मौत हो गई.

लापरवाही की हद! कमोड में फंसा नवजात का सिर, टॉयलेट में जन्म देने के लिए मजबूर हुई मां

कानपुर: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) जिले से एक अजीबोगरीब खबर (Weird News) सामने आई है. यहां के लाला लाजपत राय अस्पताल में नवजात शिशु की कमोड में फिसलने से मौत (Baby's Death In Toilet) हो गई. अस्पताल के डॉक्टरों ने 30 साल की प्रेग्नेंट महिला (Pregnant Woman) हसीन बानो को इमरजेंसी वार्ड में एडमिट करने से इनकार कर दिया था.

महिला ने टॉयलेट में बच्चे को दिया जन्म

बता दें कि पीड़ित महिला के पति मोइन ने डॉक्टरों से गुहार लगाई थी क्योंकि उसकी पत्नी के पेट में असहनीय दर्द हो रहा था. जब दर्द सहा नहीं गया तो वो टॉयलेट गई, जहां उसने एक बच्चे को जन्म दिया, लेकिन नवजात के फिसलने से उसका सिर कमोड में फंस गया. हॉस्पिटल की नर्सों ने ये कहकर प्रेग्नेंट महिला को भर्ती करने से मना कर दिया था कि ये उनका मामला नहीं है.

ये भी पढ़ें- शख्स ने Paytm के फाउंडर को किया मजेदार ईमेल, 'मैं ट्रिलियन डॉलर कमा सकता हूं'; फिर

कमोड तोड़ कर निकाला गया बच्चे का सिर

जान लें कि इसके बाद अस्पताल के कर्मचारियों ने कमोड तोड़ कर नवजात को बाहर निकाला लेकिन तब तक बच्चे की मौत हो चुकी थी. इस घटना का सबसे दर्दनाक पहलू ये है कि जब तक अस्पताल के कर्मचारी मौके पर पहुंचे और टॉयलेट शीट को तोड़ कर बच्चे को निकाला तब तक बच्चे का पिता उसके पैर पकड़कर वहीं खड़ा रहा और अपने बच्चे को बचाने की कोशिश करता रहा.

लाला लाजपत राय अस्पताल से जुड़े गणेश शंकर विद्यार्थी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉक्टर संजय काला ने मामले का संज्ञान लेते हुए कमेटी बनाकर जांच के आदेश दिए हैं.

ये भी पढ़ें- टेस्टी सांभर के लिए मां, बेटी और लड़के के बीच हुआ भयंकर झगड़ा, दो की मौत

डॉक्टर संजय काला ने कहा, 'मामला गंभीर है. पूरे मामले की जांच के लिए कमेटी गठित की गई है. दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.'

Trending news