लड़ाकू विमान में उड़ान भरकर सिंधू ने रचा इतिहास, कहा- तेजस है असली हीरो

तेजस की प्रशंसा करते हुए, सिंधु ने कहा कि स्वदेश निर्मित यह विमान असली हीरो है.

लड़ाकू विमान में उड़ान भरकर सिंधू ने रचा इतिहास, कहा- तेजस है असली हीरो
सिंधू तेजस उड़ाने वाली पहली महिला बन गई हैं.

बेंगलुरु: प्रसिद्ध भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू ने शनिवार को एयरो इंडिया शो में स्वदेश निर्मित लड़ाकू विमान तेजस से उडा़न भरकर अपनी उपलब्धियों में एक और कीर्तिमान जोड़ लिया है. सिंधू तेजस उड़ाने वाली पहली महिला बन गई हैं. उड़ान पूरी करने के बाद सिंधू ने तेजस को "असली हीरो" करार दिया.

अपने बुलंद हौंसले के साथ 40 मिनट तक आसमान का चक्कर लगाने के बाद उन्होंने संवाददाताओं को बताया, "तेजस उड़ाने वाली पहली महिला बनकर मैं बेहद खुश हूं. यह दिन महिलाओं को समर्पित है. इसलिए मैं इस दिन को हमेशा याद रखूंगी." 

तेजस की प्रशंसा करते हुए, सिंधु ने कहा कि स्वदेश निर्मित यह विमान असली हीरो है. उन्होंने कहा कि यह एक अद्भुत अनुभव रहा और मुझे सह-पायलट बनने का अवसर मिला. उन्होंने कहा, "यह निश्चित रूप से एक शानदार अनुभव और बेहतरीन मौका था. मैं बहुत सम्मानित महसूस कर रही हूं कि कैप्टन सिद्धार्थ ने मुझे सभी स्टंट दिखाए." 

कैप्टन सिद्धार्थ मुख्य पायलट थे. यह पूछे जाने पर कि क्या वह चाहती हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गगनयान यात्रा कार्यक्रम के तहत एक महिला अंतरिक्ष की पहली यात्रा करें, इस पर सिंधु ने कहा कि यह निर्णय केंद्र सरकार को लेना है. उन्होंने कहा, "इस संबंध में निर्णय उन्हें (केंद्र सरकार को) लेना है, लेकिन निश्चित रूप से वे बहुत अच्छा काम कर रहे हैं." सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत और भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार प्रोफेसर के विजय राघवन भी तेजस से उड़ान भर चुके हैं.