close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भरतपुर: रैली में भाग लेने गई स्कूली छात्रा की साइकिल से गिरकर मौत, परिजनों में आक्रोश

सूचना पर मथुरागेट थाना पुलिस अस्पताल पहुंची और उसके परिजनों को सूचित किया. परिजनों की मांग पर पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंपना चाहा लेकिन परिजनों ने शव लेने से इंकार कर दिया है.

भरतपुर: रैली में भाग लेने गई स्कूली छात्रा की साइकिल से गिरकर मौत, परिजनों में आक्रोश
परिजन स्कूल की प्रधानाध्यापक सहित ड्यूटी में तैनात टीचर पर लापरवाही का आरोप लगा रहे हैं.

भरतपुर: 9वीं क्लास की छात्रा सोनिया बुधवार को साइकिल से गिरकर बेहोश हो गई जिसकी अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई. आनन-फानन में उसके साथ चल रही स्कूली छात्राओं ने राहगीरों के सहयोग से उसे आरबीएम जिला अस्पताल पहुंचाया लेकिन वहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

जैसे ही यह खबर विद्यालय पहुंची तो स्कूल में हड़कंप मच गया. सोनिया अपनी साथी छात्राओं के साथ एसबीके स्कूल में अपना स्कूल बैग रखकर साइकिल से राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर जिला स्तर पर निकाले जाने वाली स्कूल रैली में भाग लेने नॉडल विद्यालय राजकीय बदन सिंह जा रही थी. लेकिन स्कूल से कुछ दूरी पर ही जामा मस्जिद के पास वह गिरकर बेहोश हो गई और कुछ देर बाद ही उसकी मौत हो गई. सूचना पर मथुरागेट थाना पुलिस अस्पताल पहुंची और उसके परिजनों को सूचित किया. परिजनों की मांग पर पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंपना चाहा लेकिन परिजनों ने शव लेने से इंकार कर दिया है.

परिजनों का आरोप है जिस समय बालिका साइकिल से गिरी उस समय कोई भी स्कूल अध्यापक बच्चों के साथ नहीं था. परिजन स्कूल की प्रधानाध्यापक सहित ड्यूटी में तैनात टीचर पर लापरवाही का आरोप लगा रहे हैं. वहीं मृतक छात्रा के साथ की छात्राओं ने बताया है कि वह नवरात्र के व्रत के चलते सिर्फ एक सेब खा कर आई थी इसलिए 4 दिन से वह बहुत कमजोर हो गई थी. इसी कमजोरी की वजह से वह साइकल से गिरी और उसकी मौत हो गई.

इधर एसडीएम संजय गोयल और डीएसपी शहर हवा सिंह अस्पताल पहुंचे और स्कुल प्रबंधन सहित साथी छात्राओं से घटना की जानकारी ली और समझाइश की लेकिन परिजन अभी नहीं माने और शव लेंने से इनकार कर रहे हैं.