close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सीकर में मनचलों की नहीं खैर, महिला पुलिस की 'सपेरा' टीम रखेगी पैनी नजर

सीकर शहर में दर्जनों चेन स्नेचिंग की घटनाएं हो चुकी हैं. इसके अलावा छेड़खानी की वारदातें आम बात है लेकिन छेड़खानी की घटनाएं पुलिस तक नहीं पहुंच पाती. 

सीकर में मनचलों की नहीं खैर, महिला पुलिस की 'सपेरा' टीम रखेगी पैनी नजर
फाइल फोटो

सीकर: राजस्थान के सीकर में अब राह चलती लड़कियों और महिलाओं पर फब्तियां कसने वाले और छेड़खानी करने वाले मजनूओ की कारगुजारीओं पर अंकुश लगाने के लिए सीकर पुलिस अब सतर्क हो गई है. शहर की सडक़ों पर लड़कियां बेखौफ घूम सके, निडर होकर स्कूल और कॉलेज जा सके, इसके लिए अब महिला पुलिसकर्मियों की एक स्पेशल टीम गठित की गई है. जिसका नाम सपेरा टीम होगा जो हर वक्त बाइक पर गश्त करेंगी. 

पुलिस की यह महिला टीम हर वक्त किसी भी हालात में बच्चियों की सुरक्षा के लिए मात्र कुछ ही मिनट में मौके पर पहुंच जाएगी और उनकी सुरक्षा का काम करेगी, जो बाइक पर शहर में गश्त करेंगी. ताकि स्कूल और कॉलेजों के बाहर घूमने वाले मनचले लड़कों की छेड़छाड़ तथा चेन स्नेचरों की वारदातों पर अंकुश लगाया जा सके. 

सीकर शहर में दर्जनों चेन स्नेचिंग की घटनाएं हो चुकी हैं. इसके अलावा छेड़खानी की वारदातें आम बात है लेकिन छेड़खानी की घटनाएं पुलिस तक नहीं पहुंच पाती. पुलिस की सपेरा टीम के गठन के बाद महिला संगठनों सहित विभिन्न संगठनों ने पुलिस की इस कवायद की तारीफ की है. भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष अनिता शर्मा ने कहा कि इससे निश्चित तौर पर महिलाओं से छेड़खानी करने वालों और अपराधिक किस्म के लोगों की कारगुजारीओं पर अंकुश लगेगा. 

सपेरा टीम द्वारा सीकर में गर्ल्स कॉलेज, गर्ल्स स्कूल सहित अन्य सार्वजनिक स्थलों पर गश्त करना शुरू कर दिया है ताकि महिलाओं और लड़कियों से छेड़खानी पर अंकुश लगाया जा सके. सपेरा टीम ने अपना काम सीकर में शुरू कर दिया है. निश्चित ही इससे अपराधियों और मजनुआ मनचलों की कारगुजारी पर अंकुश लगेगा औरमहिलाओं व बालिकाओं के मन में सुरक्षा के भाव पैदा होंगे.