close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान में भी सर्दी का कहर, प्रदेश के 10 जिलों में 3 डिग्री से नीचे लुढ़का पारा

सर्दी ही नहीं, बल्कि कोहरे की चादर ने भी कई शहरों को परेशान कर दिया है. मौसत विभाग ने 72 घंटे में ठंडी हवाए चलने और सुबह और शाम को कोहरा छाने की संभावनाएं जताई हैं. 

राजस्थान में भी सर्दी का कहर, प्रदेश के 10 जिलों में 3 डिग्री से नीचे लुढ़का पारा
कोहरे की चादर ने भी कई शहरों को परेशान कर दिया है.

जयपुर/ आशीष चौहान: कश्मीर और पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फबारी का असर राजस्थान तक दिखाई देने लगा है. एक बार फिर से शीतलहर के चलते मैदानी इलाकों में भी ठंड बढ़ने लगी है. पहाड़ी इलाकों के साथ साथ मैदानी इलाकों में तापमान माइनस में चला गया है. अब तो आलम ये हो गया है कि ठंडे केवल सुबह और शाम की ही नहीं रह गई, बल्कि धूप में भी सर्दी की ठिठुरन महसूस की जा रही है. राजस्थान के सीकर की हालत तो ऐसी हो गई है कि फतेहपुर इलाका चार दिन से जमा हुआ है.

चार दिन से तापमान माइनस चार तक पहुंच गया है. फतेहपुर में न्यूनतम तापमान माइनस 4.2 डिग्री दर्ज किया गया .ना केवल फतेहपुर जमा हुआ है, बल्कि चुरू, भीलवाड़ा, माउंट आबू, चितौडगढ़ में भी सर्दी की जकड़न में महसूस की जा रही है. ठिठुरती ठंड के कारण 10 से अधिक जिलों में तापमान 3 डिग्री से भी नीचे चला गया है. जयपुर और अजमेर में भी तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. लोग घरों में दुबके हुए है और अलाव का सहारा ले रहे हैं. शाम होते होते तो सडकों पर सन्नाटा छाने लगता है.

सर्दी ही नहीं, बल्कि कोहरे की चादर ने भी कई शहरों को परेशान कर दिया है. मौसत विभाग ने 72 घंटे में ठंडी हवाए चलने और सुबह और शाम को कोहरा छाने की संभावनाएं जताई हैं. चूरू में भी न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री और भीलवाड़ा में 0.2 डिग्री दर्ज किया गया है. हाड कंपकपाने वाली ठंड के कारण कई और जिलों में तो हालत बहुत खराब है. सर्दी के सितम सबसे ज्यादा असर फतेहपुर, माउंट आबू, चूरू, भीलवाड़ा में देखा जा रहा है.

चूरू का तापमान 0, भीलवाड़ा का 0.2, माउंट का आबू 1.0, वनस्थली का 1.6, अलवर का 2.4, चित्तौड़गढ़ का 2.6, डबोक का 2.8, पिलानी का 2.9, गंगानगर का 3.2, अजमेर का 4.0, जयपुर का 7.6 तापमान दर्ज किया गया है.

जयपुर शहर में दो दिन से दिन में भी शीतलहर चल रही है. यहां रात का तापमान 7.6 डिग्री दर्ज किया गया. शाम होते-होते शहर कोहरे से छिप जाता है. जिले के जोबनेर कस्बे में पारा माइनस 2.5 दर्ज किया गया. तापमान में लगातार गिरावट के बाद मरूधरा के जिले कश्मीर की तरह जमने लगे हैं. जिस कारण इंसान तो क्या जानवर भी बुरी तरह से परेशान हो रहे हैं.