टैक्सी से उतरते ही परिवार को उठा ले गई कोटा पुलिस, वजह पता होते ही सब बोले- ठीक हुआ

परिवार के सभी 13 सदस्य फ्लाइट के जरिये पहले जयपुर पहुंचे और फिर प्रशासन की इजाजत पर जयपुर से टैक्सी के जरिये कोटा पहुंचे.

टैक्सी से उतरते ही परिवार को उठा ले गई कोटा पुलिस, वजह पता होते ही सब बोले- ठीक हुआ
प्रतीकात्मक तस्वीर.

मुकेश सोनी, कोटा: देश भर में लॉकडाउन होने के बाद मुंबई में फंसा एक परिवार बुधवार को कोटा लौटा तो प्रशासन हरकत में आ गया. टैक्सी से उतरते ही पुलिस ने परिवार को अपने साथ ले लिया और चिकित्सा विभाग को इसकी सूचना दी.

सूचना पाकर चिकित्सा विभाग की टीम मौके पर पहुंची. इसके बाद परिवार के सभी सदस्यों की स्क्रीनिंग जांच की गई और सभी को घर में आईसोलेट किया गया है.

जानकारी के मुताबिक, परिवार के सभी 13 सदस्य फ्लाइट के जरिये पहले जयपुर पहुंचे और फिर प्रशासन की इजाजत पर जयपुर से टैक्सी के जरिये कोटा पहुंचे. सभी 13 लोग एक ही परिवार के सदस्य हैं, जो इंद्रा मार्केट और विज्ञान नगर क्षेत्र के रहने वाले हैं. परिवार मुंबई में शादी समारोह में गया था लेकिन देशभर में लॉकडाउन की घोषणा के बाद शादी कैसिंल हो गई और  परिवार वहीं फंसा रह गया था. फिलहाल परिवार सभी सदस्यों को चिकित्सा विभाग ने अपनी निगरानी में रखा है.

बता दें कि पड़ोसी जिले बारां में भी कोरोना वायरस को लेकर राज्य में धारा 144 और लॉकडाउन को लेकर पुलिस ने सख्ती दिखाना शुरू कर दिया है. आज सुबह से ही पुलिस प्रशासन मोटरसाइकिल सवारों को वापस अपने घरों को भेज रहा है. जरूरी कार्य पर ही उनको शहर में प्रवेश दिया जा रहा है.

जिला कलेक्टर द्वारा भी किराना और आवश्यक वस्तुओं की दुकानों का समय निर्धारित कर दिया है. दूध बेचने का भी समय निर्धारित किया है. सुबह 6 बजे से 9 बजे तक तथा शाम को 5 बजे से 7 बजे तक दूध की बिक्री की जाएगी और किराना की दुकानों का समय 9 बजे से 12 बजे तक रखा गया है. दुकानों पर भी भीड़ नहीं लगे, उसके लिए दुकानदारों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं. शहर में सड़कों पर पूरी तरह से सन्नाटा पसरा हुआ है.