close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झालावाड़ में जन्माष्टमी की धूम, गुंजा 'नंद के आनंद भयो जय कन्हैया लाल की'

जिले में जन्माष्टमी का त्योहार काफी धूमधाम से मनाया गया. लेकिन झालरापाटन शहर का ये मंदिर रहा भक्तों के किए कुछ खास.

झालावाड़ में जन्माष्टमी की धूम, गुंजा 'नंद के आनंद भयो जय कन्हैया लाल की'
झालरापाटन का अति प्राचीन द्वारिकाधीश मंदिर. (प्रतीकात्मक फोटो)

झालावाड़/महेश परिहार: जन्माष्टमी के दौरान झालावाड़ जिला कृष्ण की भक्ति में डूबा नजर आया. इस दौरान झालावाड़ शहर और जिले के सभी कस्बों के मंदिरों में भगवान श्री कृष्ण का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया. लेकिन भक्तों की सबसे ज्यादा भीड़ धार्मिक नगरी झालरापाटन में देखी गई. 

इस दौरान यहां के अति प्राचीन द्वारिकाधीश मंदिर में कृष्ण भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा. भगवान द्वारिकाधीश मंदिर परिसर में मंगल भजन भी गाए गए. महिलाएं भगवान के भजन गाने के साथ कृष्ण भक्ति में झूमती नजर आई. 

LIVE TV देखें

छोटे बच्चों ने पहनी राधा-कृष्ण की ड्रेस
इस दौरान मंदिर परिसर में नन्हे बालक भी अपने परिजनों के साथ कृष्ण और राधा की वेशभूषा में अठखेलियां करते नजर आए. रात 12 बजते हैं भगवान कृष्ण बाल गोपाल रूप में प्रकट हुए. मंदिर परिसर "नंद के आनंद भयो जय कन्हैया लाल की" जयकारों से गूंज उठ. भगवान के जन्म के बाद श्रद्धालु भगवान द्वारिकाधीश के बालगोपाल रूप के दर्शनों के लिए लंबी कतारों में लगे नजर आए.

पद्मनाभ सूर्य मंदिर में भी रही काफी भीड़
इसी तरह का नजारा जिले के भगवान पद्मनाभ सूर्य मंदिर व श्रीमन्नारायण मंदिर में भी दिखा. जहां श्रद्धालुओं ने भगवान कृष्ण का जन्मोत्सव मनाया. इन मंदिरों में भी श्रद्धालूओं की काफी भीड़ उमड़ी.

पूरे प्रदेश में मनाई गई जन्माष्टमी
इसके अलावा पूरे प्रदेश में श्री कृष्ण जन्मोत्सव काफी धूमधाम से मनाया जा रहा है. इस दौरान राजधानी जयपुर सहित प्रदेश के कई जिलों के कई मंदिरों में काफी भीड़ देखी गई.