close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बजट से प्रदेश के विकास को मिलेगी नई दिशा, रखा गया है वंचित वर्ग के हितों का ध्यान: रघु शर्मा

बुधवार को बजट पेश होने के बाद शर्मा ने प्रदेश के बजट को अत्यंत विकासोन्मुख बताते हुए चिकित्सा क्षेत्र को विशेष प्राथमिकता देने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया.

बजट से प्रदेश के विकास को मिलेगी नई दिशा, रखा गया है वंचित वर्ग के हितों का ध्यान: रघु शर्मा
मंत्री ने जनता क्लिनिक योजना की घोषणा की सराहना की. (फाइल फोटो)

जयपुर: प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य तथा सूचना एवं जनसम्पर्क मंत्री रघु शर्मा ने प्रदेश के बजट को अत्यंत विकासोन्मुख बताते हुए कहा कि इस बजट से प्रदेश के विकास को नई दिशा मिलेगी. उन्होंने चिकित्सा क्षेत्र को विशेष प्राथमिकता देने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया.

शर्मा ने कहा कि इससे स्वस्थ राजस्थान के निर्माण का मार्ग प्रशस्त होगा. शर्मा ने कहा कि इस बजट में आम आदमी विशेष रूप से किसानों, गरीबों तथा वंचित वर्ग के हितों का विशेष ध्यान दिया गया है. 

उन्होंने कहा कि बजट में भारी संख्या में नई नियुक्तियों की घोषणाओं के साथ ही युवाओं को बेहतर रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में ठोस प्रावधान किये गए हैं. उन्होंने एक हजार करोड़ रुपए के कृषक कल्याण कोष का गठन करने की घोषणा को किसानों के हित में अत्यंत महत्वपूर्ण बताया है.

चिकित्सा मंत्री ने प्रदेश में गली-मोहल्ले में जनता क्लिनिक शुरू कर इनमें निशुल्क दवाईयां उपलब्ध कराने की घोषणा की सराहना की. शर्मा ने मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना के तहत 608 निशुल्क दवाईयों की संख्या में 104 तरह की नई दवाईयां शामिल करने पर हर्ष व्यक्त किया है. 

उन्होंने कहा कि इससे कैंसर, हृदय सहित अन्य गंभीर बीमारियों के उपचार में लाभ मिलेगा. एसएमएस की तर्ज पर वरिष्ठ नागरिकों एवं बीपीएल परिवारों को प्रदेश के अन्य मेडिकल काॅलेजों में सीटी स्कैन एवं एमआरआई की सुविधा निशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी.

शर्मा ने प्रदेश में 200 नए स्वास्थ्य उप केन्द्र, 5 नए ट्रोमा सेंटर तथा 50 नए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने, 10 स्वास्थ्य उपकेन्द्रों को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में क्रमोन्नत करने, 10 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में क्रमोन्नत करने तथा अस्पतालों में 500 बेड्स बढ़ाए जाने की घोषणा की प्रशंसा करते हुए कहा कि इनसे स्वास्थ्य के आधारभूत ढांचे को मजबूती मिलेगी. 

उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि नवजात बालिकाओं को इंदिरा प्रियदर्शनी बेबीकिट उपलब्ध कराने से शिशु मृत्युदर में कमी लाई जा सकेगी.

चिकित्सा मंत्री ने जोधपुर में कैंसर रोगियों के उपचार के लिए 31 करोड़ की लागत से लीनियर एक्सेलेटर मशीन की स्थापना करने, एमडीएच जोधपुर में मल्टीस्टोरी आईसीयू वार्ड की स्थापना करने व बीकानेर मेडिकल कॉलेज प्रसूताओं के लिए नई यूनिट स्थापित करने की घोषणा की भी सराहना की. 

उन्होंने कहा कि श्रीगंगानगर में मेडिकल कॉलेज प्रारंभ होने से ग्रामीण व दूरदराज के सीमावर्ती क्षेत्रों में बेहतर चिकित्सा सुविधा सुलभ हो सकेगी.