राजस्थान: पैंथर ने किया था वृद्ध पर हमला, नाराज ग्रामीणों ने जलाया जिंदा

 दरअसल 26 जनवरी के दिन एक्सीडेंट में घायल हुए पैंथर ने गांव के एक वृद्ध व्यक्ति पर हमला कर दिया था.

राजस्थान: पैंथर ने किया था वृद्ध पर हमला, नाराज ग्रामीणों ने जलाया जिंदा
मामला पुलिस और वन विभाग के सामने आने के बाद ग्रामीण कहानियां गढ़ रहे हैं.

धीरज, उदयपुर: उदयपुर जिले के इसवाल रोड पर स्थित रामा गांव के पास खरवडों की भागल गांव में एक पैंथर को ग्रामीणों के द्वारा मारकर जलाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. इस घटनाक्रम के सामने आने के बाद जहां वन विभाग के अधिकारियों के होश उड़े हुए हैं. वही, पैंथर को मौत के घाट उतराने वाले ग्रामीणों काफी सहमे हुए हैं.

 दरअसल 26 जनवरी के दिन एक्सीडेंट में घायल हुए पैंथर ने गांव के एक वृद्ध व्यक्ति पर हमला कर दिया था. जिसमें ग्रामीण प्रेम सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए थे. इसके बाद उसके मूवमेंट की वजह से परेशान ग्रामीणों ने कानून को खिलौना बनाते हुए पैंथर पर अपना कहर बरपा दिया. पहले तो ग्रामीणों ने पैंथर को लाठियों से पीट-पीट कर अधमरा कर दिया. इसके बाद उन्होंने उसपर कैरोसीन उड़ेल कर उसे जला कर मार दिया.

कानून को हाथ में लेकर इस घटनाक्रम को अंजाम देने के बाद गांव के ग्रामीणों ने इसकी भनक वन विभाग के अधिकारियो और पुलिस कर्मी को नहीं लगने दी. 

सोशल मीडिया पर इसकी फोटो हुई थी वायरल

लेकिन इसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद बात मीडिया के माध्यम से वन अधिकारियों तक पहुंची. इसके बाद पुलिस और वन विभाग के अधिकारी गांव में पहुंचे. इस दौरान पैंथर के जलकर राख हुए कुछ अवशेष मिल पाए. जिसके बाद वन विभागने अज्ञात ग्रामीणों के खिलाफ वन्य जीव एक्ट में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. 


(प्रतीकात्मक फोटो)

घायल पैंथर हुआ था हमलावर, ग्रामीणों ने ली जान

सूत्रों ने बताया कि प्राथमिक अनुसंधान में यह बात सामने आई है कि रामा गांव के खरबड़ के पास हाईवे पर पैंथर किसी वाहन की टक्कर में घायल हो गया था. इसके बाद पैंथर बचने के लिए गांव में खेत में बने बाड़े में चला गया था. जहां उसने प्रेम सिंह नाम के व्यक्ति पर हमला कर दिया था. पेंथर के हमले का शिकार हुए प्रेम सिंह के शोर मचाने पर आस-पास के ग्रामीण बाड़े पर इकट्ठे हो गए. पैंथर के घायल होने से वह भाग नहीं पाया और ग्रामीणों ने उसे घेर कर लाठियों से पीटना शुरू कर दिया. इसके बाद अधमरे पैंथर पर कैरोसीन छिड़क कर ग्रामीणों ने उसे जला दिया गया. 

उदयपुर में शव का हुआ पोस्टमार्टम

जब वन विभाग और पुलिस मौके पर पहुंची तब तक सारे ग्रामीण मौके से भाग गए थे. बताया जा रहा है कि वन विभाग की टीम पैंथर के शव का पोस्टमार्टम उदयपुर जिला पशु चिकित्सालय में करवाया है. 

घटना सामने आने के बाद ग्रामीण गढ़ रहे हैं कहानियां

आपको बता दें कि, इस इलाके में आने वाले कई गावो में पिछले कई महीनों से पैथर का आतंक बढ़ा है. लेकिन वन विभाग के लापरवाह रवैये के कारण ग्रामीण इस तरह की परेशानियों से रोजाना रूबरू होते रहते है. घटना के बाद ग्रामीणों में भय व्याप्त है. जिसके बाद ग्रामीण खुद को बचाने के लिए तरह-तरह की कहानिया गढ़ कर इसकी लीपापोती में जुट गये है. 

घायल ग्रामीण की हालत है गंभीर

बता दें, पैंथर के हमले में गंभीर रूप से घायल हुए प्रेम सिंह का इलाज उदयपुर के एमबी चिकित्सालय में जारी है. जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है. वहीं, इस मामले में वन विभाग और सुखेर पुलिस अपने अनुसंधान में जुटा हुआ है.