पायल रोहतगी को बूंदी कोर्ट से मिली जमानत, मोतीलाल नेहरू पर की थी विवादित टिप्पणी

पायल रोहतगी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक विवादित वीडियो शेयर किया था, जिसमें पायल ने स्वतंत्रता सेनानी और जवाहर लाल नेहरु के पिता मोती लाल नेहरु पर टिप्पणी की थी. 

पायल रोहतगी को बूंदी कोर्ट से मिली जमानत, मोतीलाल नेहरू पर की थी विवादित टिप्पणी
पायल ने मोतीलाल की शादी को तीन तलाक़ के मुद्दे से जोड़ते हुए आपत्तिजनक बयान दिया था.

कोटा: गांधी-नेहरू परिवार पर टिप्पणी करके विवादों में फंसी अभिनेत्री पायल रोहतगी को आज यानी की मंगलवार को राजस्थान की बूंदी कोर्ट ने जमानत दे दी है. पायल रोहतगी को 25 हजार के निजी मुचलके पर जमानत मिली है.

सोमवार को बूंदी के सीजेएम कोर्ट ने पायल रोहतगी के मामले में भी ज़मानत याचिका ख़ारिज करते हुए उन्हें 24 दिसंबर तक के लिए जेल भेजने का फ़ैसला किया था. बूंदी सेंट्रल जेल में पायल को कैदी नंबर 2616 अलॉट किया गया. जेल के महिला बैरक में पायल को लूट, मर्डर, तस्करी के आरोपियों के बीच अपनी रात बितानी पड़ी.

दरअसल, पायल रोहतगी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक विवादित वीडियो शेयर किया था, जिसमें पायल ने स्वतंत्रता सेनानी और जवाहर लाल नेहरु के पिता मोती लाल नेहरु पर टिप्पणी की थी. 

कांग्रेसी नेता चरमेश शर्मा ने याचिका दर्ज करवाई थी
पायल ने मोतीलाल की शादी को तीन तलाक़ के मुद्दे से जोड़ते हुए आपत्तिजनक बयान दिया था, जिसके बाद ये वीडियो वायरल होते हुए जमकर चर्चाओं में रहा और इससे आहत होते हुए बूंदी के कांग्रेसी नेता चरमेश शर्मा ने बूंदी न्यायालय में याचिका दर्ज करवाई थी.

बॉलीवुड अभिनेत्री पायल रोहतगी को शायद अंदाज़ा भी नहीं होगा कि गांधी और नेहरु परिवार पर की गई टिप्पणी उन्हें इतनी भारी पड़ेगी कि उन्हें थाने कोर्ट-कचहरी के चक्कर में फंसाकर गिरफ़्तारी की दहलीज़ तक ला खड़ा करेगी.