पुलवामा अटैक: राजस्थान सरकार देगी शहीदों के परिवार को 25 लाख की सहायता, सरकारी नौकरी

खाचरियावास ने शहीदों के परिजनों के लिए विभिन्न प्रकार की सहायता देने की घोषणा करते हुए कहा कि सरकार शहीदों के परिवारों का पूरा ध्यान रखेगी.

पुलवामा अटैक: राजस्थान सरकार देगी शहीदों के परिवार को 25 लाख की सहायता, सरकारी नौकरी
फाइल फोटो

जयपुर: राजस्थान के सैनिक कल्याण मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कश्मीर के पुलवामा में शहीद हुए राजस्थान के जवानों के परिवारों को 25-25 लाख रुपए की आर्थिक सहायता और कई अन्य लाभ देने की घोषणा की है. खाचरियावास ने शहीदों के परिजनों के लिए विभिन्न प्रकार की सहायता देने की घोषणा करते हुए कहा कि सरकार शहीदों के परिवारों का पूरा ध्यान रखेगी. 

बता दें, पुलवामा में गुरुवार को हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हुए. इसमें राजस्थान के 5 जवान शामिल थे. पुलवामा हमले में शहीद जवानों के शव श्रीनगर से दिल्ली पहुंच गए हैं. जिसके बाद पीएम मोदी ने जवानों को श्रद्धांजलि दी. जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए विपक्ष के कई नेताओं के साथ कई केंद्रीय मंत्री भी मौजूद रहे. यहां गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जवानों को श्रद्धांजलि दी.

जिसके बाद जवानों के पार्थिव देह को उनके गृह राज्य रवाना कर दिया गया और आजसभी जवानों के पार्थिव देह अपने अपने गृह राज्य पहुंच जाएंगे. इसी बीच शुक्रवार को राजस्थान सरकार द्वारा शहीद हुए जवानों के परिवारों को 25 लाख की सहायता और कई अन्य लाभ देने का ऐलान किया गया है.

रोजगार
शहीद की धर्मपत्नी या उसके पुत्र या अविवाहित पुत्री को लेवल-10 तक के पदों पर नौकरी योग्य होने तक शहीद की धर्मपत्नी का अधिकार सुरक्षित रहेगा.

शिक्षा
राजस्थान में स्कूल, कॉलेज, तकनीकी शिक्षा, मेडिकल इंजीनियरिंग में नि:शुल्क शिक्षा दी जाएगी. विद्यालय जाने वाले बच्चों को प्रतिवर्ष 1800 रुपए छात्रवृत्ति भी दी जाएगी. कॉलेज, तकनीकी, मेडिकल, इंजीनियरिंग शिक्षा के लिए यह राशि प्रतिवर्ष 3600 रुपए होगी. यह छात्रवृत्ति शिक्षा विभाग के माध्यम से दी जाएगी.

शहीद का सम्मान
प्रदेश में एक विद्यालय/औषधालय/चिकित्सालय/पंचायत भवन/ मार्ग/ पार्क /अन्य सार्वजनिक स्थान का नामकरण शहीद सैनिक के नाम से किया जाएगा.

अन्य कई सुविधाएं
विद्युत विभाग द्वारा किसी भी कृषि भूमि, जो शहीद के परिवार के सदस्य के नाम से हो, के लिए 'आउट ऑफ टर्न' एक विद्युत कनेक्शन दिया जाएगा.

रोडवेज
रा.रा.प.प.नि. द्वारा शहीद की धर्मपत्नी और उसके आश्रित बच्चों और माता-पिता को डीलक्स एवं साधारण बस के लिए निःशुल्क रोडवेज पास जारी किया जाएगा.